top of page
Search
  • alpayuexpress

जमीनी विवाद में सेना के जवान के पिता की धारदार हथियार से हत्या, बीच-बचाव करने आई भाई की गर्भवती पत्न




जमीनी विवाद में सेना के जवान के पिता की धारदार हथियार से हत्या, बीच-बचाव करने आई भाई की गर्भवती पत्नी को किया अधमरा


जुलाई गुरुवार 23-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


अमेठी। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में दिल-दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां सेना के जवान के पिता की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई और भाभी के साथ भी मारपीट की गई है. सेना के जवान ने हत्या का आरोप पड़ोसी पर लगाया है. पुलिस ने भी इस मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है.


दरअसल जवान के पिता अपने घर की मरम्मत करवा रहे थे. घर को ठीक करवाते समय पड़ोसी छत पर आए और दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया. विवाद इतना ज्यादा हो गया कि पड़ोसी ने बिना रुके धारदार हथियार से हमला करना शुरू कर दिया. इससे पहले कोई कुछ समझ पाता जवान के पिता राजेंद्र मिश्रा गंभीर रूप से घायल हो गए. आरोपी ने सेना के जवान की भाभी समेत घर की अन्य महिलाओं के साथ भी मारपीट की और उन्हें अधमरा कर दिया.


सेना का जवान बोला- अब देश की रक्षा कैसे करूंगा?


स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया जहां राजेंद्र मिश्रा को मृत घोषित कर दिया गया. इसके बाद पुलिस ने तुरंत जांच शुरू कर दी है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. मृतक के बेटे और सेना के जवान रिंकू मिश्रा ने बताया, 'हमारी दीवार पर प्लास्टर हो रहा था. उसके बाद पड़ोसी हमारी छत पर चढ़ा और हमारे पिता जी को लाठी-डंडे से जमकर पीटा. घर पर कोई नहीं था. अवैध असलहे और धारदार हथियार से हमारे पिता को मार दिया. हमारी घर की औरतों को भी मारा. मैंने अपने पिता को खो दिया. जब मैं अपने पिता को नहीं बचा पाया तो देश के लिए क्या करूंगा.'

रिंकू मिश्रा ने आगे कहा, 'जब मैं अपने परिवार की रक्षा नहीं कर सकता तो किसकी रक्षा कर सकता हूं. पड़ोसी की हमारे साथ पुरानी रंजिश थी, लेकिन एक साल से कोई रंजिश नहीं थी. वो लोग प्लान बनाकर आए थे.

पिताजी हमारे घर पर अकेले थे तो उन्होंने हमारे पिता को मारा.


अमेठी की पुलिस अधीक्षक ख्याति गर्ग ने बताया, मामला शुकुलपुर गांव के संग्रामपुर थाना क्षेत्र का है. यहां राजेंद्र मिश्रा अपनी दीवार पर प्लास्टर और तराई करवा रहे थे. जिसके बाद पड़ोसी के द्वारा उनसे मारपीट की गई और उन्हें गंभीर चोटें आईं. उन्हें सीटीसी लखनऊ लाया गया. चोटों के चलते ही उनकी मृत्यु हो गई.'

2 views0 comments

Comentarios


bottom of page