Search
  • alpayuexpress

पुलिस मुठभेड़ में दो बदमाश घायल, एक महिला समेत पांच अपहर्ता गिरफ्तार




जुलाई शनिवार 25-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


एसटीएफ व गोण्डा पुलिस ने मुक्त कराया अपहृत नाबालिग बच्चा


गोण्डा। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और जिला पुलिस ने आज तड़के एक संयुक्त आपरेशन के दौरान कल दोपहर बाद जिले के कर्नलगंज कस्बे से अपहृत किए गए एक व्यापारी के नाबालिग बच्चे को सकुशल बरामद करते हुए पांच अपहरण कर्ताओं को गिरफ्तार किया है। पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में दो अपहरण कर्ता जख्मी हो गए हैं, जबकि कुछ पुलिस कर्मियों को भी चोटें आई हैं। प्रदेश पुलिस के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कोतवाली परिसर में बच्चे को सुरक्षित उनके परिजनों को सौंप दिया।

शनिवार की सुबह जिले के कर्नलगंज कोतवाली में पत्रकारों को एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि कल दोपहर बाद करीब डेढ़ बजे अल्टो कार सवार बदमाशों ने एक व्यापारी के आठ वर्षीय पौत्र नमो का अपहरण करके फिरौती मांगी थी। परिजनों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को सायंकाल पौने चार बजे दी थी। इसके बाद स्थानीय थाने पर मुकदमा अपराध संख्या 272/2020 अन्तर्गत धारा 364ए का अभियोग पंजीकृत करते हुए पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी। शासन स्तर से भी सभी टीमें लगाई गईं। देवीपाटन परिक्षेत्र के डीआइजी व एसपी गोण्डा तथा एसपी एसटीएफ के निर्देशन में आज तड़के कर्नलगंज थाना क्षेत्र के पारा गांव में अपहर्ताओं के साथ हुई पुलिस की मुठभेड़ में एक महिला समेत पांच अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करते हुए अपहृत बालक नमो को सकुशल बरामद किया गया। एडीजी ने बताया कि मुठभेड़ उस समय हुई जब अपहरण कर्ता बालक को गाड़ी से किसी अन्य स्थान पर ले जाना चाह रहे थे। उन्होंने बताया कि पुलिस मुठभेड़ में दो बदमाश उमेश यादव पुत्र रमा शंकर यादव निवासी सकरौरा पूर्वी थाना कोतवाली कर्नलगंज व दीपू कश्यप पुत्र राम नरेश कश्यप निवासी सोनपारा थाना कर्नलगंज जख्मी हो गए। गिरफ्तार किए गए तीन अन्य बदमाशों में सूरज पाण्डेय पुत्र राजेन्द्र पाण्डेय निवासी शाहपुर थाना परसपुर हालमुकाम सकरौरा थाना कर्नलगंज, उसकी पत्नी छवि पाण्डेय व भाई राज पाण्डेय शामिल है। घायल बदमाशों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मुठभेड़ में कुछ पुलिस कर्मियों को भी चोटें आई हैं। उनका भी उपचार कराया जा रहा है। अपहर्ताओं के कब्जे से अपहरण में प्रयुक्त अल्टो कार भी बरामद करने के साथ ही मुठभेड़ में प्रयुक्त पिस्टल व दो अदद तमंचे बरामद किए गए हैं। क्षेत्र में अभी तलाशी अभियान जारी है। एडीजी ने बताया कि अपहरण का षड़यंत्र रचने तथा अपहरण कर्ताओं की मदद करने में भी कुछ लोगों के शामिल होने की जानकारी मिली है। पुलिस पूछताछ व जरूरी साक्ष्यों के आधार पर उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई करेगी। शासन स्तर से मुठभेड़ को सफलता पूर्वक अंजाम देते हुए बच्चे को सकुशल बरामद करने वाली जिला पुलिस व एसटीएफ की टीम को एक-एक लाख रुपए का पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। प्रेस वार्ता में देवीपाटन परिक्षेत्र के डीआइजी डा. राकेश सिंह, एसपी गोण्डा राज करन नैयर, एसपी एसटीएफ लखनऊ सुधीर कुमार सिंह भी मौजूद रहे।

1 view0 comments