top of page
Search
  • alpayuexpress

एसपी ओमप्रकाश सिंह का नाम रोशन करते नजर आ रहे हैं बिरनो थाना के दरोगा




अगस्त शुक्रवार 28-8-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


बिरनो गाजीपुर। थाने के एक दारोगा अपने कारनामो को लेकर इस समय चर्चा में बने हुए है।कभी फरियादियों से शिकायती पत्र वापस लेने के लिए दबाव के नाम पर धन वसूली तो कहीं प्रार्थना पत्र मनमुताबिक नही लिखने पर फर्जी मुकदमा दर्ज करने की धमकी देने का मामला सामने आने लगा है। दरोगा को इसी थाने में तीन वर्षो से काबिज रहने पर भी सवाल उठने लगा है। इस मामले में पुलिस अधीक्षक से पीड़ित ने प्रार्थना पत्र के माध्यम से शिकायत किया है।थाना क्षेत्र के सरदरपुर निवासी अवधराज चौहान पुत्र शम्भू चौहान ने प्रार्थना पत्र में बताया कि विगत 27 जुलाई को जमीन पर से कब्जा हटाने तथा झगड़ा से बचने के लिए थाने में लिखित शिकायत दिया था। इस मामले को लेकर हल्का दारोगा इष्टदेव पांडेय मौके पर पहुंचकर शिकायतकर्ता को ही धमकाने लगे। उनका कहना था कि मैं खड़ा होकर तुम्हारे जमीन पर कब्जा कर धान की रोपाई करा दुंगा। दरोगा के इस रूख से विपक्षी को बल मिलने के बाद रम्पत चौहान और राधिका देवी के परिवार वालो ने हमारे दो भाइयों तथा माता को मारपीट कर घायल कर दिया। जब घायलो को बीते तीन अगस्त को थाने पर लेकर गया तो सुनवाई नहीं हुई। दरोगा के दबाव में घायलो का मेडिकल भी नहीं हुआ।

जब इस मामले को लेकर कई बार प्रार्थना पत्र दिया गया तो छह अगस्त को पांच घायलो में से सिर्फ दो का मेडिकल कराया गया। इधर हल्काई दरोगा इष्टदेव पांडेय हम लोगों के जमीन पर कब्जा कराकर धान की रोपाई करवा दिया गया। आरोप लगाया कि दरोगा ने दिए गए प्रार्थना पत्र में संगीन धाराओं से वंचित करने के लिए मनमुताबिक प्रार्थना पत्र लिखने के लिए दबाव बनाया गया।

पीड़ित ने बताया कि हल्का दरोगा ने कहा कि हमारे हिसाब से प्रार्थना पत्र नहीं लिखोगे तो ऐसे केस में डाल दूंगा कि जमानत भी नहीं हो पाएगी। वहीं दारोगा इसी थाने पर करीब तीन वर्षो से तैनात है, जिससे की क्षेत्रीय दलाल से इनका संपर्क गहरा हो गया है। इन सभी मामलों को प्रमुखता से एसपी डा. ओम प्रकाश सिंह के यहां प्रार्थना पत्र के माध्यम गुरूवार को शिकायत किया है। दरअसल, इसी दारोगा के उपर एक सप्ताह के अंदर एक फरियादी ने पांच हजार घूंस मांगने की शिकायत सीएम पोर्टल सहित एसपी से कर चुका है।

0 views0 comments

Comments


bottom of page