Search
  • alpayuexpress

खाद की छह दुकानें निलंबित व 12 को नोटिस




जुलाई शनिवार 25-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


श्रावस्ती। उर्वरक विक्रेताओं पर नकेल कसने के लिए कृषि विभाग की ओर से जिले में छापेमारी अभियान चलाया गया। अभियान में छह दुकानों को निलंबित कर 12 दुकानदारों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। कृषि विभाग की ओर से उर्वरक विक्रेताओं पर नकेल कसने के लिए जिले भर में छापेमारी अभियान चलाया गया। कृषि कार्य का सीजन होने से उर्वरक की मांग बढ़ गई है। कोई धान तो कोई मक्के की फसल में उर्वरक डालने के लिए दुकानों पर लाइन लगा रहा है। ऐसे में दुकानदार भी मनमाने दाम पर उर्वरक बेंचने से नहीं चूक रहे हैं। कई स्थानों पर तो प्रति बोरी 100 रुपये दाम बढ़ा कर वसूले गए।

उप कृषि निदेशक आरपी राना ने बताया कि तीन टीमों का गठन कर जिले की तीनों तहसीलों में औचक छापेमारी की गई। इकौना तहसील में स्वयं आरपी राना, एसडीएम इकौना दिनेश मिश्र व क्षेत्राधिकारी तारकेश्वर पांडेय ने छापेमारी की। भिनगा में उप जिलाधिकारी भिनगा प्रवेन्द्र कुमार व जिला कृषि रक्षा अधिकारी विजय कुमार तथा जमुनहा तहसील में उप जिलाधिकारी जमुनहा आरपी चौधरी व प्रभारी अपर जिला कृषि अधिकारी प्रदीप कुमार नायक ने पुलिस बल के साथ छापेमारी की। छापेमारी में इकौना के चार व भिनगा के दो उर्वरक विक्रेताओं के लाइसेंस को 15 दिन के लिए निलम्बित कर दिया गया। 12 उर्वरक विक्रेताओं को कारण बताओ नोटिस दी गई और 16 नमूने भरे गए। कुल 29 दुकानों पर छापेमारी की गई। श्री राना ने निर्देश दिया कि यूरिया 266.50 पैसे में डाई अमोनियम फास्फेट की बिक्री 1150 रुपये में ही करें। अधिक दाम में उर्वरक बिक्री की शिकायत मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

1 view0 comments