Search
  • alpayuexpress

पत्रकार की हत्या पर बोले राहुल गांधी- 'वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज'


पत्रकार की हत्या पर बोले राहुल गांधी- 'वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज'


जुलाई बुधवार 22-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस घटना पर दुखना प्रकट करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधा है.


पत्रकार विक्रम जोशी ने बुधवार सुबह तोड़ा दम


नई दिल्ली: दिल्ली से सटे गाजियाबाद में भांजी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने वाले पत्रकार को सोमवार रात बदमाशों ने गोली मारी दी थी, जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहे पत्रकार विक्रम जोशी की बुधवार सुबह मौत हो गई. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने इस घटना पर दुखना प्रकट करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Adityanath Government) पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज.

राहुल गांधी ने बुधवार को अपने ट्वीट में लिखा- "अपनी भांजी के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने पर पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या कर दी गयी. शोकग्रस्त परिवार को मेरी सांत्वना. वादा था राम राज का, दे दिया गुंडाराज."


इससे पहले, कांग्रेस महासचिव और राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा, "गाजियाबाद NCR में है. यहां कानून व्यवस्था का ये आलम है तो आप पूरे यूपी में कानून व्यवस्था के हाल का अंदाजा लगा लीजिए. एक पत्रकार को इसलिए गोली मार दी गई क्योंकि उन्होंने भांजी के साथ छेड़छाड़ की तहरीर पुलिस में दी थी. इस जंगलराज में कोई भी आमजन खुद को कैसे सुरक्षित महसूस करेगा?


दरअसल, गाज़ियाबाद में पत्रकार ने अपनी भांजी के छेड़ने की तहरीर पुलिस को दी थी. पुलिस ने ना उसमें कार्रवाई की और ना ही किसी की गिरफ्तारी की. इसके बाद तहरीर देने से नाराज़ बदमाशों ने सोमवार की देर रात पत्रकार को गोली मार दी.


घटना का एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें दिखाई दे रहा है कि पांच-छह बदमाश जोशी को घेरकर मार रहे हैं, तभी एक दूसरा अपराधी आता है और उनके सिर में बिल्कुल करीब से गोली मार देता है. गोली लगने के बाद जोशी जमीन पर गिर जाते हैं और बदमाश भाग जाते हैं. जिसके तुरंत बाद उनकी बेटी पास में आती है और घबराई हुई मदद के लिए चिल्लाती है. इस मामले में मंगलवार तक पुलिस ने नौ आरोपी किए गए थे. वहीं, चौकी इंचार्ज को लापरवाही बरतने पर सस्पेंड भी कर दिया गया.



1 view0 comments