top of page
Search
  • alpayuexpress

PFI पर लगा बैन, गृह मंत्रालय ने 5 साल के लिए लगाया प्रतिबंध,7 राज्यों में छापे में 170 हिरासत में

नई दिल्ली


PFI पर लगा बैन, गृह मंत्रालय ने 5 साल के लिए लगाया प्रतिबंध


PFI के आतंकी नेटवर्क पर हमला जारी 7 राज्यों में छापे में 170 हिरासत में


सात राज्यों-उत्तर प्रदेश कर्नाटक गुजरात दिल्ली महाराष्ट्र असम और मध्य प्रदेश में स्थानीय पुलिस और आतंकरोधी दस्ते ने सोमवार-मंगलवार आधी रात को एक साथ छापे मारे। छापेमारी रात को लगभग 12.30 बजे शुरू हुई और अधिकतर जगहों पर सुबह तक पूरी कर ली गई।


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


नई दिल्ली। पूरे देश में फैले कुख्‍यात संगठन पीएफआइ के आतंकी नेटवर्क पर एजेंसियों का हमला जारी है।

मंगलवार को सात राज्यों में स्थानीय पुलिस और आतंकरोधी दस्ते ने पीएफआइ से जुड़े ठिकानों पर छापा मारा और इससे जुड़े 170 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया। पूछताछ के बाद इनमें से कई को गिरफ्तार भी किया गया है।

इससे पहले गुरुवार को एनआइए के नेतृत्व में 15 राज्यों में 93 स्थानों पर छापेमारी हुई थी। इस दौरान 106 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया था।

सूत्रों के अनुसार, गुरुवार की छापेमारी में मिले दस्तावेज और गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ के बाद मिली जानकारी राज्यों के साथ साझा की गई।

इसी के आधार पर सात राज्यों-उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात, दिल्ली, महाराष्ट्र, असम और मध्य प्रदेश में स्थानीय पुलिस और आतंकरोधी दस्ते ने सोमवार-मंगलवार आधी रात को एक साथ छापे मारे।

छापेमारी रात को लगभग 12.30 बजे शुरू हुई और अधिकतर जगहों पर सुबह तक पूरी कर ली गई। इस कार्रवाई में सबसे अधिक 75 लोगों को कर्नाटक से हिरासत में लिया गया है।

पुलिस के अनुसार, इनमें से कई को गिरफ्तार किया जा चुका है। उत्तर प्रदेश में 57 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

राज्य के 26 जिलों में एटीएस, स्पेशल टास्क फोर्स और स्थानीय पुलिस ने एक साथ छापा मारा। असम में पीएफआइ के 25 सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।

दिल्ली में भी निजामुद्दीन और शाहीन बाग समेत कई स्थानों पर स्पेशल सेल ने छापा मारा और 30 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया।

महाराष्ट्र के छह जिलों से 25 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मध्य प्रदेश में आठ जिलों में छापे मारे गए और 21 लोगों को हिरासत में लिया गया। गुजरात में 10 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

एनआइए के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, मिले साक्ष्यों के आधार पर राज्य पुलिस अलग-अलग एफआइआर दर्ज करेगी और आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित करेगी।

एनआइए ने इस मामले में पांच नए केस दर्ज किए हैं। एनआइए पहले से पीएफआइ के खिलाफ 14 मामलों की जांच कर रही है और 355 आरोपितों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर चुकी है।

ईडी ने पीएफआइ के खिलाफ मनी लांड्रिंग के दो नए केस दर्ज किए हैं और दो केस की पहले से जांच कर रही है।

3 views0 comments

Comentarios


bottom of page