Search
  • alpayuexpress

मोदी कैबिनेट का फैसला: HRD का नाम बदलकर किया शिक्षा मंत्रालय, नयी शिक्षा नीति पर भी मुहर




जुलाई गुरुवार 30-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


नई दिल्ली: मोदी कैबिनेट की बैठक में बड़ा फैसला लिया है. मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया गया है. इसके अलावा बैठक में मोदी सरकार की ओर से नयी शिक्षा नीति को भी मंजूरी दी गयी है. कैबिनेट में लिये गये फैसले पर विस्तृत जानकारी शाम 4 बजे सरकार की ओर से की जाने वाली कैबिनेट ब्रीफिंग में होगी.


HRD ने दिया था प्रस्ताव


यहां बता दें कि पहले ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से मौजूदा नाम को बदले के लिए प्रस्ताव दिया गया था. जिसपर बुधवार को मोदी कैबिनेट ने अपनी मंजूरी दे दी है. साथ ही नयी शिक्षा नीति पर भी बैठक में मुहर लगी है. नयी शिक्षा नीति पर मुहर लगने के साथ अब उच्च शिक्षा क्षेत्र में एक ही रेगुलेटरी काम करेगी. इसका फायदा ये होगा कि शिक्षा के मामले में जो दिक्कतें आ रही हैं, अब वो खत्म हो जायेगा.


केंद्र सरकार ये मानती है कि देश में शिक्षा के क्षेत्र पर एक बड़े बदलाव की आवश्यकता है, जिससे भारत विश्व में ज्ञान का सुपर पावर बन जाये. साथ ही मानना है कि इसके लिए हर किसी को बढ़िया स्तर की शिक्षा देने का जरूरत है ताकि समाज को प्रगतिशील बनाया जा सके.


नया राष्ट्रीय पाठ्यक्रम फ्रेमवर्क तैयार करने पर जोर


देश में एक अच्छी क्वालिटी की शिक्षा के लिए मंत्रालय का जोर है कि एक नया राष्ट्रीय पाठ्यक्रम का फ्रेमवर्क तैयार किया जाये. और इस फ्रेमवर्क में अलग-अलग भाषाओँ के ज्ञान के साथ ही कोर्स में खेल, कला, कौशल और वातावरण से जुड़ी पढ़ाई शामिल करने का कार्यक्रम है.


यहां बता दें कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 में बनाया गया था और उसके बाद 1992 में इसमें कुछ बदलाव किया गया थे. लेकिन उसके बाद से तीन दशकों तक कोई अन्य बदलाव इसमें किया ही नहीं गया है.

0 views0 comments