top of page
Search
  • alpayuexpress

मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, बेटे ने ट्वीट कर दी जानकारी- बाबूजी नहीं रहे


मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, बेटे ने ट्वीट कर दी जानकारी- बाबूजी नहीं रहे


जुलाई मंगलवार 21-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


नई दिल्ली: मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन अब इस दुनिया में नहीं रहे।उन्होंने 85 वर्ष की आयु में अपनी अंतिम सांस ली।लालजी टंडन के निधन की जानकारी उनके बेटे आशुतोष टंडन ने ट्वीट कर दी।आशुतोष टंडन ने लिखा- बाबूजी नहीं रहे…।


पिछले कई दिनों से स्वास्थ्य था गड़बड़…


राज्यपाल लालजी टंडन के स्वास्थ्य पिछले कई दिनों से गड़बड़ चल रहा था।वहीं, पिछले महीने उनकी हालत अचानक से ज्यादा बिगड़ जाने के कारण उन्हें लखनऊ के एक जानेमाने अस्पताल में भर्ती कराया गया था।यहां उनका इलाज चल ही रहा था कि उन्होंने दम तोड़ दिया।


हाल ही में हालत हो गई थी गंभीर…


डॉक्टरों के मुताबिक, लालजी टंडन का लिवर और किडनी सही से फंक्शन नहीं कर पा रहे थे।जिस कारण से उन्हें सांस लेने में परेशानी, पेशाब में परेशान हो रही थी।उनकी हालत धीरे-धीरे बिगड़ती चली जा रही थी।जहां हाल ही में उनकी हालत बहुत ज्यादा नाजुक हो गई थी।हमने उनको वेंटिलेटर पर रखा, उन्हें आराम देने का पूरा प्रयास किया लेकिन हमारी लाख कोशिशों के बावजूद हम उन्हें बचा नहीं सके।


इस समय लालजी टंडन की जगह आनंदीबेन पटेल संभाल रहीं…


लालजी टंडन अपने खराब स्वास्थ्य के चलते अपना कार्यभार नहीं देख पा रहे थे जिसके चलते उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्‍य प्रदेश के राज्यपाल का अतिरिक्‍त कार्यभार दिया गया था।इससमय आनंदीबेन पटेल उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल के साथ साथ मध्‍य प्रदेश की राज्‍यपाल का भी कार्यभार सम्भाल रही हैं।


लखनऊ के हैं रहने वाले, बीजेपी पार्टी के थे नेता…


लालजी टंडन मूल रूप से उत्तर प्रदेश के लखनऊ के रहने वाले थे यही कारण रहा कि वह बीजेपी पार्टी में रहकर उत्तर प्रदेश की राजनीति में काफी सक्रिय रहे।लालजी टंडन लखनऊ से सांसद रहे और कई बार मंत्री भी रहे।लालजी टंडन अटल बिहारी बाजपेयी के खास सहयोगी भी रहे थे।

1 view0 comments
bottom of page