Search
  • alpayuexpress

जेल में बंद कैदी ने 8 साल में ली 31 डिग्रियां, बाहर आते ही लगी सरकारी नौकरी

जेल में बंद कैदी ने 8 साल में ली 31 डिग्रियां, बाहर आते ही लगी सरकारी नौकरी


नवम्बर बुधवार 11-11-2020

किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस



अहमदाबाद: गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद एक कैदी ने 8 साल में 31 डिग्रियां लेकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है. कमाल की बात यह है कि जेल से बाहर आते ही इस शख़्स को कई विभागों से सरकारी नौकरियों के ऑफर आए और उसने अंबेडकर यूनिवर्सिटी को ज्वाइन कर लिया.


भानुभाई पटेल नाम के इस पूर्व कैदी ने नौकरी के बाद 5 सालों में और 23 डिग्रियां लीं. जिसके बाद भानूभाई पटेल का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड, यूनिक वर्ल्ड रिकॉर्ड, इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड,यूनिवर्सल रिकॉर्ड फोरम और वर्ल्ड रिकॉर्ड इंडिया तक में दर्ज हो चुका है.


इसलिए हुई थी भानु भाईपटेल को जेल


दरअसल 59 साल के भानूभाई पटेल मूल भावनगर की महुवा तहसील के रहने वाले हैं. अहमदाबाद के बीजे मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री लेने के बाद 1992 में मेडिकल की डिग्री लेने के लिए अमेरिका गए थे. यहीं, उनका एक दोस्त स्टूडेंट वीजा पर अमेरिका में जॉब करते हुए अपनी तनख्वाह भानूभाई के अकाउंट में ट्रांसफर करता था. इसके चलते उन पर फॉरेन एक्सचेंज रेग्युलेशन एक्ट (FERA) कानून के उल्लंघन का आरोप लगा. 50 साल की उम्र में उन्हें 10 साल की सजा हुई. 10 साल तक उन्हें अहमदाबाद की जेल में सजा काटनी पड़ी.


अंबेडकर यूनिवर्सिटी से मिला जॉब का ऑफर

आम तौर पर जेल जाने वाले व्यक्ति को सरकारी नौकरी नहीं मिलती. लेकिन, जेल से रिहा होने के बाद भानूभाई पटेल को अंबेडकर यूनिवर्सिटी से जॉब ऑफर हुई. नौकरी के बाद 5 सालों में भानूभाई ने 23 और डिग्रियां लीं. इस तरह अब तक वह 54 डिग्रियां ले चुके हैं.

3 views0 comments