Search
  • alpayuexpress

फर्जी सत्यापन करने वाले डायट प्राचार्य गिरफ्तार


फर्जी सत्यापन करने वाले डायट प्राचार्य गिरफ्तार


जुलाई गुरुवार 23-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


अयोध्या। अंबेडकरनगर जिले में फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे विशिष्ट बीटीसी करने वालों का सत्यापन फर्जीवाड़े मामले में छह वर्ष से वांछित चल रहे 25 हजार रुपये के इनामी डायट के पूर्व प्राचार्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आवश्यक पूछताछ के बाद जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि पुलिस के हाथ फर्जीवाड़े के कई मामले के अहम सुराग हाथ लगे हैं। जिसपर पुलिस मंथन में जुटी है। आरोपित रमाशंकर जनपद मऊ के रानीपुर थाना क्षेत्र के नगपुर गांव का निवासी है। आरोपित वर्ष 2014 में आलापुर डायट में प्राचार्य के पद पर रहते हुए फर्जी प्रमाण पत्र के सहारे 11 लोगों को विशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग दिलाकर नौकरी दिलाई थी। विभागीय जांच में सभी शिक्षकों के प्रमाण पत्र फर्जी निकलने पर तत्समय डायट प्राचार्य रहे रमाशंकर को निलंबित कर मुकदमा दर्ज किया गया था। तत्समय से पुलिस को उसकी तलाश थी। एक हफ्ते पूर्व पुलिस को इसकी लोकशन की जानकारी मुखबिर से मिली। एसपी आलोक प्रियदर्शी के निर्देश पर क्षेत्राधिकारी टांडा अमरबहादुर ने हंसवर पुलिस टीम के साथ मऊ के मोहम्दाबाद क्रासिंग से बुधवार की सुबह मुखबिर की निशानदेही पर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार करने वाले टीम में थानाध्यक्ष प्रदीप सिंह, उपनिरीक्षक राम विशाल सिंह, कांस्टेबल विवेकानंद यादव, अजय, सुधीर सिंह व अरविंद यादव शामिल थे।

0 views0 comments