top of page
Search
  • alpayuexpress

एन-95 मास्क को लेकर केन्द्र ने राज्यों को लिखा पत्र



एन-95 मास्क को लेकर केन्द्र ने राज्यों को लिखा पत्र


जुलाई मंगलवार 21-7-2020


किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस


कोरोना के प्रसार को रोकने में असफल साबित हो रहा है यह मास्क


नई दिल्ली। देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच लोग इससे बचने के लिए हर तरह के उपाय कर रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए सबसे अहम छ-95 मास्क पहना जरूरी माना गया है। वहीं, अब भारत सरकार के स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक डॉ राजीव गर्ग ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पत्र लिखकर वाल्व छ-95 मास्क को लेकर जानकारी दी है। सरकार की नई जानकारी के अनुसार वाल्व छ-95 मास्क का उपयोग कोरोना के प्रसार रोकने में असफल है। क्योंकि यह वायरस को मास्क से बाहर निकलने से नहीं रोकता है। वाल्व लगे यह मास्क महंगे होने के बावजूद भी आम लोग इसे खूब प्रयोग कर रहे हैं। एन-95 वाल्व वाले मास्क से संक्रमण की आशंका रहती है। इससे बेहतर ट्रिपल लेयर मास्क है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी वाल्व वाले मास्क से बेहतर ट्रिपल लेयर मास्क को बताया है। इस संबंध में संगठन ने निर्देश भी जारी किया है। यही वजह है कि अब चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मचारी एन-95 के साथ ट्रिपल लेयर मार्क्स भी प्रयोग कर रहे हैं। कोरोन का संक्रमण देश में तेजी से बढ़ता जा रहा है। भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 11 लाख 18 हजार के पार पहुंच गई है वहीं मरनेवालों की संख्या 27 हजार के पार पहुंच गई है। भारत पूरी दुनिया में तीसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश है। यहां पर संक्रमितों की संख्या प्रत्येक दिन बढ़ रही है। देश में महाराष्ट्र सबसे ज्यादा संक्रमित राज्य है। यहां पर संक्रमितों की संख्या तीन लाख पार गई है। इसके बात तमिलनाडु और देश की राजधानी दिल्ली सबसे ज्यादा संक्रमित है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page