top of page
Search
  • alpayuexpress

सुप्रीम कोर्ट के जज बने जस्टिस प्रशांत मिश्रा!...प्रशांत मिश्रा के परिवार में खुशी का माहौल

सुप्रीम कोर्ट के जज बने जस्टिस प्रशांत मिश्रा!...प्रशांत मिश्रा के परिवार में खुशी का माहौल


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


रायगढ़। छत्तीसगढ़ में रायगढ़ जिले के प्रशांत मिश्रा को सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस के पद पर नियुक्त किया गया है। सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने उनके नाम की सिफारिश की थी। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में बतौर जस्टिस 10 दिसंबर 2009 को हुई थी उनकी नियुक्ति। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में करीब 12 वर्ष तक जस्टिस के पद पर उन्होंने सेवा दी थी। 13 अक्टूबर 2021 को आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस के रूप में हुई थी श्री मिश्रा की नियुक्ति। 16 मई 2023 को सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में नियुक्ति हुई है। प्रशांत मिश्रा की सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस के रूप में नियुक्त होने पर रायगढ़ में हर्ष का माहौल है। प्रशांत मिश्रा के परिवार में खुशी का माहौल है। प्रशांत मिश्रा रायगढ़ के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ.प्रकाश मिश्रा के छोटे भाई हैं। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा और सीनियर एडवोकेट केवी विश्वनाथन को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाने की सिफारिश की।

सुप्रीम कोर्ट में स्वीकृत 34 पदों में से दो पद खाली हैं। जस्टिस दिनेश माहेश्वरी और जस्टिस एमआर शाह रिटायर्ड हो चुके हैं। चीफ जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाले कॉलेजियम ने एक प्रस्ताव पारित किया है जिसमें लिखा है, "सुप्रीम कोर्ट में स्वीकृत 34 जजों के पद हैं। अभी 32 जज काम कर रहे हैं। दो पद खाली हैं। जुलाई में चार और पद खाली हो जाएंगे। तब कुल 28 जज बचेंगे। हालांकि, कॉलेजियम ने खाली पड़े 2 पदों के लिए सिफारिश की है।" प्रस्ताव से पता चलता है कि कोलेजियम का चयन करते समय जिन कारकों को महत्व दिया गया है, वे मुख्य न्यायाधीशों और उनके मूल उच्च न्यायालयों के वरिष्ठ न्यायाधीशों की वरिष्ठता के साथ-साथ उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों की समग्र वरिष्ठता, और योग्यता, प्रदर्शन और अखंडता है। इसके अलावा, यह निर्धारण करने में एक अन्य महत्वपूर्ण कारक सुप्रीम कोर्ट में विविधता और समावेशन सुनिश्चित करने की आवश्यकता थी। संकल्प के अनुसार, कॉलेजियम की सिफारिशों में विविधता और समावेशिता के चार तरीके हैं।

1 view0 comments

Comments


bottom of page