top of page
Search
  • alpayuexpress

सीटू के दो दिवसीय राज्य सम्मेलन का द्वितीय सत्र लहुरी काशी पैलेस में आरम्भ।

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


सीटू के दो दिवसीय राज्य सम्मेलन का द्वितीय सत्र लहुरी काशी पैलेस में आरम्भ।


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर। सीटू के दो दिवसीय राज्य सम्मेलन का द्वितीय सत्र लहुरी काशी पैलेस में आरम्भ हुआ जिसमें महामंत्री प्रेम नाथ राय ने महामंत्री रिपोर्ट पेश की और बताया कि नवउदारवादी आर्थिक नीतियों के कारण 2008 के बाद से लगातार वैश्विक महामन्दी जारी है और इसी का फायदा उठाते हुवे तमाम पूंजीपति ताकते सत्ता में आ गयी और पूरे विश्व भर में अपने मुनाफे को बढ़ाने के लिए मजदूर वर्ग और आम जनमानस का आर्थिक शोषण बढ़ गया है। पूंजीवादी ताकतों के बढ़ते प्रभाव की वजह से कई सारे देशो में मजदूर आन्दोलनों का ठोस उभार भी प्रभाव में आया है। कोविड-19 की महामारी एक बेहद दुःखद घटना है और विश्वभर के देशों के स्वस्थ के ऊपर बजट खर्च की पोल पट्टी खोलने वाली परिघटना थी। जहाँ कुछ समाजवादी देश इस बीमारी से ढंग से उभरने में सफल रहे वहीं हमारे देश की सत्ता ने इस आपदा को अवसर में बदलने की पुरज़ोर कोशिश की। जहां कोविड में करोङो मजदूर बेरोजगार हो गए, लाखो मजदूर सड़को पर अपने घर पहुँचने की जद्दोजहद में मारें गए और उसी दौरान हमरी सरकार ने श्रम बिल और किसान बिल के कानूनी माध्यम से पूंजीपतियों की जेब भरने का भरकस प्रयास किया है। सरकार जो यह उद्योगपतियों की जेब भरने का काम कर रही है उसकी कीमत मजदूर और किसान अपनी जान देकर चुका रहें हैं। सम्मेलन को संबोधित करते हुवे सीटू के अखिल भारतीय सचिव साथी अमिताभ गुहा ने कहा कि आज की तारीख में जनतंत्र और गणतंत्र के ऊपर जितना बड़ा खतरा आज के समय मे बैठ कर ऐसे विधेयक पारित कर रहें है जिससे मज़दूर, कर्मचारी आम जनता और पूरी की पूरी मेहनतकश वर्ग का शोषण कर उसका मुनाफा सीधे सीधे उद्योगपतियों के पास जाए।

1 view0 comments

Comentários


bottom of page