top of page
Search
  • alpayuexpress

ससुराल वालों ने घर से किया बेघर!..दहेज प्रताड़ना का दंश झेल रही युवती लगा रही अधिकारियों के चौखट पर

ससुराल वालों ने घर से किया बेघर!..दहेज प्रताड़ना का दंश झेल रही युवती लगा रही अधिकारियों के चौखट पर न्याय की गुहार


अमित उपाध्याय मंडल ब्यूरो चीफ


वाराणसी:- खबर पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी से है जहां एक बार फिर दहेज प्रथा की बलि बेदी की शिकार एक युवती बनी है। बता दें कि शादी के बाद से ही दहेज लोभियों ने उससे दहेज की डिमांड का दबाव देते आ रहें हैं। फिलहाल घर से बेघर युवती ने पूरे प्रकरण के बाबत वाराणसी कमिश्नरेट पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई लेकिन अभी तक कहीं से कोई न्याय की उम्मीद नहीं मिली है।

बता दें कि 21 नवंबर 2019 को विशाखा गुप्ता पुत्री स्वर्गीय सतीश गुप्ता निवासी भदैनी वाराणसी की शादी धूमधाम और पूरे रीति रिवाज से वशिष्ठ लॉन पहाड़िया वाराणसी से अमृत जायसवाल निवासी अकथा पहाड़िया , वाराणसी के साथ हुई थी। आरोप है कि, शादी के बाद से ही विशाखा को ससुराल जनों द्वारा कार और पांच लाख रुपए कैश की डिमांड की जाने लगी। विशाखा ने पिता के ना होने की गुहाई भी दी लेकिन दहेज लोभियों द्वारा लगातार दहेज की डिमांड की जाती रही और प्रताड़ना इस कदर बढ़ी की ससुर संजय जायसवाल, सास नीलम और पति अमन द्वारा मारा पीटा जाने लगा। प्रताड़ना की हद तब हो गई जब दहेज लोभियों ने विशाखा को घर से बाहर निकाल दिया और डिमांड पूरा कर ही घर वापसी की चेतावनी दी। लाचार विशाखा जब अपनी ननद व ननदोई से न्याय की गुहार लगाई तो वहां भी उसे जमकर मारा पीटा गया और प्रताड़ित करते हुए घर से निकाल दिया गया।

प्रताड़ना की शिकार जब युवती आज अपने ससुराल अकथा पहड़िया पहुंची तो मौके पर पहुंची उसकी ननद अंकिता जायसवाल द्वारा गाली गलौज और भाग जाने को कहा गया। विशाखा ने अपने हक की बात की तो ननद ने सास व ससुर को मौके पर बुला लिया और वाद- विवाद में विशाखा के दुप्पटे में आग लगा दी। किसी तरह जान बचाकर डायल 112पुलिस को सूचना दी तो मौके पर पहुंची पुलिस बाद में मामले का निबटारा करने की बात कहकर मामले से पल्ला झाड़ लिया। मौके से निकली विशाखा अपनी मां के साथ कमिश्नरेट वाराणसी पहुंचकर न्याय की गुहार लगानी चाही लेकिन मौके पर कमिश्नर के नहीं मिलने पर सारनाथ थाना पहुंचकर न्याय की गुहार लगा रही है, खबर लिखे जाने तक पीड़िता का मामला अभी दर्ज नहीं किया गया है।

1 view0 comments

コメント


bottom of page