top of page
Search
  • alpayuexpress

सम्मानित प्रख्यात समाजशास्त्री!...प्रो.सत्यमित्र दूबे का नोएडा में हुआ निधन,जनपद में फैली शोक की लहर

सम्मानित प्रख्यात समाजशास्त्री!...प्रो.सत्यमित्र दूबे का नोएडा में हुआ निधन,जनपद में फैली शोक की लहर


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर यश भारती और गाजीपुर गौरव से सम्मानित प्रख्यात समाजशास्त्री, पूर्व कुलपति, कवि, लेखक और समाजवादी चिंतक प्रो. सत्यमित्र दूबे का बीती रात नोएडा में निधन हो गया। उनके निधन की खबर लगते ही गाजीपुर जनपद में शोक की लहर फैल गई। देश के प्रख्यात समाजशास्त्री, कवि, लेखक, उप कुलपति, प्रोफेसर सत्यमित्र दुबे का बीती रात नोएडा के एक अस्पताल में ईलाज के दौरान निधन हो गया, वे 88 साल के थे। प्रोफेसर सत्यमित्र दुबे राष्ट्रीय स्तर के शिक्षा विद थे, और गाजीपुर के पूर्व कांग्रेस विधायक अमिताभ अनिल दुबे के चाचा है। इस निधन की जानकारी पूर्व विधायक और पीसीसी सदस्य अमिताभ अनिल दुबे ने दी है। प्रोफेसर सत्यमित्र दुबे देश के प्रख्यात समाजशास्त्री होने के साथ डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति भी थे। शिक्षा और समाजशास्त्र क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें, गाजीपुर गौरव सम्मान, उत्तर प्रदेश सरकार हिंदी एकेडमी, दिल्ली और डायमंड अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मान मिल चुका है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उन्हें यश भारती सम्मान से भी अलंकृत किया गया था। वे गाजीपुर के ब्रह्मनपुरा गांव के मूल निवासी थे। उनके निधन की सूचना से गांव में शोक है। इस अवसर पर जिला कांग्रेस कमेटी के जिलाध्यक्ष सुनील राम एवं संदीप विश्वकर्मा, एआईसीसी सदस्य रविकांत राय, पूर्व मंत्री सुरेंद्र सिंह, डॉक्टर मारकंडेय सिंह, बटुक नारायण मिश्र, शफीक अहमद, राघवेंद्र पाठक, अजय कुमार श्रीवास्तव, अजय कुमार सिंह, लाल साहब यादव, राघवेंद्र जी,राम नगीना पांडे ,चंद्रिका सिंह, हामिद अली, ज्ञान प्रकाश सिंह एवं अन्य कांग्रेसजनों ने शोक व्यक्त कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया है। कई वर्षों से वह नोएडा में ही मकान बनवाकर रहते थे। लेकिन, गाजीपुर से उनका गहरा नाता था। इसका अंदाजा इससे भी लगा सकते हैं कि वे अपने सोशल साइट्स के अकाउंट को गाजीपुर के ही पते से चलाते थे और गाजीपुर के लोगों से फोन पर हमेशा जुड़े रहते थे

1 view0 comments

Comments


bottom of page