top of page
Search
  • alpayuexpress

समस्याओं का निस्तारण के लिए!...कर्मचारी नेता दुर्गेश ने कर्मियों की मांगों पर ध्यान आकृष्ट कराया

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


समस्याओं का निस्तारण के लिए!...कर्मचारी नेता दुर्गेश ने कर्मियों की मांगों पर ध्यान आकृष्ट कराया


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर। कर्मचारियों की समस्याओं का निस्तारण के लिए राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद द्वारा जिलाधिकारी को संबोधित पत्र के क्रम में जिलाधिकारी द्वारा मासिक बैठक के लिए मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता व अपर जिला अधिकारी अरुण कुमार सिंह को संयुक्त अध्यक्षता में कर्मचारी संगठनों के पदाधिकारियों से वार्ता कर जनपद स्तर पर लंबित मांगों का निस्तारण करने के लिए टीम बनाई गई। इसके क्रम में कार्यालय मुख्य विकास अधिकारी द्वारा पत्र के माध्यम से राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव और जिलामंत्री ओंकार नाथ पांडेय को आमंत्रित किया गया था। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद जिलाध्यक्ष दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव और कार्यकारी मंत्री आलोक कुमार राय ने उक्त बैठक में भाग लिया। जिलाध्यक्ष ने सर्वप्रथम उत्तर प्रदेश चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ (शुपालन विभाग) द्वारा 3 सूत्री मांगों पर विस्तृत प्रकाश डाला, जिसमें 2006 से नियुक्त कर्मचारियों एसीपी सहित एनपीएस की कटौती और पासबुक बनवाने तथा कर्मचारियों को अस्थाई करण सहित मांगों पर ध्यान आकृष्ट कराया। इस पर सहमति भी बनी। यूपी एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट मिनिस्टीरियल सर्विस एसोसिएशन संघ द्वारा एक सूत्री मांग से अवगत कराया गया कि उप कृषि निदेशक द्वारा संगठन के पदाधिकारी सदस्यों का चरित्र प्रविष्टियां निदेशालय को प्रस्तुत नहीं की गई है, जिससे ज पदोन्नत नहीं हो पा रहा है। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षणेत्तर संघ द्वारा चार सूत्री मांग पत्र बीते 26 जुलाई को जिला विद्यालय निरीक्षक प्रेषित किया गया था, जिसमें सर्वप्रथम जनपद के लगभग हर एक कर्मचारियों का एसीपी का अवशेष देयक लंबित है व संजय कुमार यादव शाहिद स्मारक इंटर कालेज शेरपुर का पदोन्नति 08 अगस्त को एसीपी की बैठक का वेतन निर्धारण भी लंबित है और नागेश कुमार सिंह जीपीएफ का अंतिम भुगतान भी लंबित है। अवगत कराया गया कि इन 4 सूत्री मांगों का निस्तारण जिला विद्यालय निरीक्षक की कर्मचारी विरोधी नीति के चलते किसी भी मांग पत्र पर विचार नहीं किया गया है, जिससे कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। राजस्व संग्रह अमीन संघ के जिला मंत्री जयनाथ यादव का निलंबन अवधि में निर्वहन भत्ता और 23 अप्रैल 2022 के विरुद्ध प्रस्तुत प्रत्यावेदन के निस्तारण के लिए मांग पत्र प्रस्तुत किया गया और संग्रह अनुसेवक का पदोन्नत विगत कई वर्षों से लंबित है, जबकि अमीनो के बहुत से पद रिक्त पड़े हुए हैं, जिसके उपरांत अपर जिला अधिकारी द्वारा अविलंब निस्तारण करने की सहमति प्रदान की गई। बैठक के अंत में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रस्तुत मांग पत्र पर गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए कार्यवृत्ति जारी करते हुए संबंधित विभागाध्यक्ष और अधिष्ठान प्रभारी को पूरी पत्रावली के साथ उपस्थित होने का निर्देश जारी किया गया। परिषद के आमंत्रित पदाधिकारियों को आश्वत किया गया कि अगली बैठक से पहले सभी मांग पत्रों का निस्तारण हो जाएगा। बैठक में जिला अधिकारी द्वारा नामित मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता व अपर जिलाधिकारी अरुण कुमार सिंह, राज्य कर्मचारी संघ परिषद के जिलाध्यक्ष दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव, कार्यकारी मंत्री आलोक कुमार राय सहित संप्रेक्षक राकेश कुमार पांडेय, संगठन मंत्री अभय कुमार सिंह, राजेश श्रीवास्तव, राजस्व संग्रह अमीन संघ के जिलामंत्री जयनाथ यादव उपस्थित रहे।

1 view0 comments

Commentaires


bottom of page