top of page
Search
  • alpayuexpress

व्हाट्सएप ग्रुप से भाजपा नेता को निकालने पर एफआईआर, पुलिस ने एडमिन गिरफ्तार किया

व्हाट्सएप ग्रुप से भाजपा नेता को निकालने पर एफआईआर, पुलिस ने एडमिन गिरफ्तार किया


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


ग्रेटर नोएडा :- ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अजीबोगरीब मामला सामने आया है। व्हाट्सएप ग्रुप विवाद की वजह बन गया। मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिन को गिरफ्तार कर लिया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक शिकायतकर्ता भारतीय जनता पार्टी से जुड़ा है और वह व्हाट्सएप ग्रुप पर वीडियो डालता था। सोसाइटी के ग्रुप में इन वीडियो का विरोध किया गया। दूसरी तरफ इस मामले में एफआईआर के आरोपी और व्हाट्सएप ग्रुप के एडमिन का कहना है कि तीन बार वार्निंग के बाद उन्हें निकाला गया था। उन्हें व्हाट्सएप ग्रुप से निकाले जाने पर पुलिस ने एफआईआर की है। यह अपने आप में अजीब मामला है


क्या है मामला

ग्रेटर नोएडा वेस्ट की श्री राधा स्काई गार्डन सोसायटी का मामला है। आशुतोष राज को गिरफ्तार किया गया है। बिसरख थानाक्षेत्र का मामला है। सोसायटी के निवासी बबलू पंडित की शिकायत पर यह गिरफ़्तारी की गई है। बबलू ने एफआईआर में कहा है कि मुझे सोसाइटी व्हाट्सएप ग्रुप से निकाल दिया गया। इसलिए पुलिस से शिकायत की गई

गलत वीडियो डाल रहा था

वहीं दूसरी ओर इस बारे में आशुतोष राज का कहना है कि बबलू व्हाट्सएप ग्रुप पर गलत सामग्री पोस्ट कर रहे थे। उन्हें बार-बार मना किया गया। मना करने के बावजूद वह सामग्री डाल रहे थे। आशुतोष राज का कहना है कि यह ग्रुप केवल सोसाइटी की समस्याओं के लिए बनाया गया था, लेकिन बबलू इसमें अन्य वीडियो को डाल रहा था, जिसकी वजह से उन्होंने बबलू को ग्रुप से हटाया था

संजय विनायक जोशी की वीडियो पर हुआ बवाल

ललित पंडित ने बताया कि उन्होंने बीते दिनों संघ प्रचारक संजय विनायक जोशी की कुछ वीडियो सोसाइटी के ग्रुप में शेयर की थी। इस ग्रुप का नाम एसएसआर है। इस ग्रुप को आशुतोष राज नामक एक व्यक्ति चलाता है। ललित पंडित ने बताया कि जब उन्होंने संजय विनायक जोशी की वीडियो ग्रुप में साझा की तो ग्रुप के एडमिन आशुतोष राज ने उनको ग्रुप से निकाल दिया। आरोप है कि ग्रुप से निकालने के बाद आशुतोष राज ने उनको कॉल किया और गंदी-गंदी गालियां दी। भारतीय जनता पार्टी के नेता के साथ आशुतोष राज ने अभद्रता की। जिसके बाद पीड़ित ने बिसरख कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत करवाया। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत के आधार पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी पर धारा संख्या 504, 506 और 507 के तहत मुकदमा दर्ज किया है

1 view0 comments

Comments


bottom of page