top of page
Search
  • alpayuexpress

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई अतीक और अशरफ के हत्यारोपियों की पेशी, शूटरों की बढ़ाई गई रिमांड

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई अतीक और अशरफ के हत्यारोपियों की पेशी, शूटरों की बढ़ाई गई रिमांड


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


प्रयागराज:-माफिया अतीक अहमद और अशरफ हत्याकांड में गिरफ्तार तीनों आरोपियों की 14 दिनों की न्यायिक हिरासत आज पूरी हो गई. जिसके बाद तीनों आरोपियों को जस्टिस दिनेश कुमार गौतम के समक्ष वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया गया. इस दौरान कोर्ट ने लवलेश सिंह, अरुण मौर्य और सनी सिंह को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. अब 12 मई को मामले की अगली सुनवाई होगी. सुरक्षा की दृष्टि से तीनों की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई.

बीते मंगलवार को देर रात हत्याकांड की जांच में जुटी STF प्रतापगढ़ जेल पहुंची थी. जहां तीनों आरोपी लवलेश सिंह, अरुण मौर्य और सनी सिंह को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ 5 घंटे तक पूछताछ की थी. तीनों आरोपियों को यहां रखे जाने के बाद कई अधिकारी लगातार गुपचुप तरीके से पहुंच रहे हैं. जहां जेल के अंदर जाकर तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं.

शूटरों के जिला जेल में बंद होने की वजह से यहां बराबर एसटीएफ का आना-जाना भी लगा है. माना जा रहा है कि फोर्स शाइस्ता परवीन, गुड्डू मुस्लिम का सुराग लगाने के लिए अपनी नजर बनाकर रखी है. यह भी जानकारी मिल रही है कि एसटीएफ जिले के कई स्थानों पर भी जांच पड़ताल कर रही है. इधर बीते मंगलवार को एसटीएफ के बाद बुधवार को जेल के डीआईजी श्रीवास्तव भी प्रतापगढ़ जिला कारागार पहुंचे थे. जहां आईजी ने छापा मारते हुए बैरकों को चेक किया था. साथ ही जेल में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था. अतीक माफिया ब्रदर्स के हत्यारोपियों के बैरक के पास जाकर उनकी सुरक्षा व्यवस्था का भी जायजा लिया था.

गौरतलब है कि 15 अप्रैल की रात को इन तीनों आरोपियों ने काल्विन हॉस्पिटल के सामने पुलिस कस्टडी में अतीक और अशरफ की हत्या कर दी थी. हत्या के बाद घटनास्थल पर तीनों आरोपियों ने आत्मसर्मपण कर दिया था. जिसके बाद पुलिस ने 16 अप्रैल को रिमांड मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने के बाद जुडिशल कस्टडी में सेंट्रल जेल नैनी भेजा गया था. सुरक्षा कारणों से इन तीनों अभियुक्तों दूसरे दिन 17 अप्रैल को सेंट्रल जेल नैनी से प्रतापगढ़ जेल के लिए शिफ्ट कर दिया गया था.

2 views0 comments

Kommentare


bottom of page