top of page
Search
  • alpayuexpress

विधिविधान से शुभ मुहूर्त में!..होलिका दहन की तैयारियां हुई पूरी

विधिविधान से शुभ मुहूर्त में!..होलिका दहन की तैयारियां हुई पूरी


मोहम्मद इसरार पत्रकार (उप संपादक)


गाजीपुर:- हिन्दू धर्म में रंगों का त्योहार होली से पूर्व महत्वपूर्ण होलिका दहन होता है। फाल्गुन मास की पूर्णिमा तिथि में रविवार को विधिविधान से होलिका जलाने के बाद अगले दिन रंग-गुलाल से होली खेली जाएगी। होलिका दहन की तैयारी चालीस दिन पहले बसंत पंचमी से शुरू हो गई थी। खानपुर थानाक्षेत्र में कुल 120 स्थलों पर पारंपरिक होलिका जलाई जा रही है। होलिका दहन का पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। इस दिन विधिविधान के साथ पूजन करने की परंपरा है। होलिका दहन की पूजा करने से घर में आने वाले संकट दूर हो जाते हैं। लोग होली से कई दिन पहले ही होली मनाने की तैयारी शुरू कर दिए थे। गाय के गोबर से होलिका और प्रहलाद की मूर्ति बनाकर होलिका में रख दिया गया है। गांव के हर घर से अरंडी की डाली, उपले, आम की सूखी लकड़ी और औषधीय गुणों से युक्त कई प्रकार के लकड़ियों, नारियल के साथ रक्षा रोली अबीर गुलाल से पूजन कर विधिविधान पूर्व रविवार की रात शुभ मुहूर्त में होलिका जलाई जाएगी।

2 views0 comments

Commentaires


bottom of page