top of page
Search
  • alpayuexpress

विकसित भारत संकल्प यात्रा पर काशी में बोले प्रधानमंत्री मोदी!..ये यात्रा मेरी भी कसौटी है,एक तरह से

विकसित भारत संकल्प यात्रा पर काशी में बोले प्रधानमंत्री मोदी!..ये यात्रा मेरी भी कसौटी है,एक तरह से मेरा रिजल्ट


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


वाराणसी:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार की दोपहर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे। इस दौरान सबसे पहले पीएम मोदी कटिंग मेमोरियल इंटर कॉलेज में विकसित भारत संकल्प यात्रा प्रदर्शनी में भाग लिया। इस दौरान कई लाभार्थियों से भी मुलाकात की। उनके अनुभव जाने। उनसे मिलने के बाद कटिंग मेमोरियल कॉलेज में आयोजित जनसभा में विकसित भारत संकल्प यात्रा की मंशा बताई और कहा कि यह यात्रा मेरी कसौटी है और एक तरह से मेरा रिजल्ट भी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे देश में सरकारें तो बहुत आईं, योजनाएं भी बहुत बनीं, बड़ी-बड़ी बातें हुईं और उन सबका निचोड़ मुझे लगा कि सरकार जो योजना बनाती है, जिसके लिए बनाती है, जिस काम के लिए बनाती है वो सही समय पर बिना किसी परेशानी के उस तक पहुंचे। पीएम आवास योजना है तो जिसके पास घर नहीं है, उसे घर मिलना चाहिए। इसके लिए उसे सरकार के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है।

कहा कि जब से आपने मुझे काम दिया है, तब से चार करोड़ लोगों को पक्का घर मिल चुका है। अभी भी खबर मिलती है कि कुछ लोगों को नहीं मिल सका है। उनके भी बन रहे हैं। ऐसे में हम उन लोगों से मिलते हैं जिनसे पता चलता है कि सही लोगों को लाभ मिल रहा है कि नहीं। यह विकसित भारत संकल्प यात्रा एक तरह से मेरा रिजल्ट है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश के सभी लोग विकसित भारत संकल्प यात्रा को सफल बनाने के लिए समय दे रहे हैं, जा रहे हैं। यहां(वाराणसी) के सांसद के नाते मेरा भी दायित्व बनता था कि मुझे भी उस कार्यक्रम में समय देना चाहिए। आज मैं सांसद के रूप में, आपके सेवक के रूप में आप ही की तरह इस यात्रा में हिस्सा लेने आया हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि आगामी 25 सालों में देश विकसित हो जाएगा तो मुसीबतों का नामोनिशान मिट जाएगा। विकसित भारत संकल्प यात्रा का सरकारी अधिकारियों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। 2047 तक विकसित भारत का फल आने वाली पीढ़ी को मिलेगा। उन्होंने विकसित भारत संकल्प यात्रा को मुसीबत से मुक्ति का मार्ग बताते हुए कहा कि यह देश का कार्य है। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा मेरी भी कसौटी है कि देशवासियों के लिए जो कहते थे और चाहते थे वैसा हुआ कि नहीं। उन्होंने काशीवासियों से कहा कि जब से आपने हमें काम दिया है, अब तक 4 करोड़ परिवारों को पक्का घर मिल चुका है। आयुष्मान सहित सरकार के विभिन्न योजनाओं का लाभ लोगों को मिल रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आजादी की लड़ाई का जिक्र करते हुए कहा कि उसे दौरान हिंदुस्तान का हर आदमी बोलने लगा था कि मैं आजादी के लिए काम करता हूं। ये देखकर अंग्रेज भाग गए। आज हम सब ये सोच लें कि हमें देश को आगे ले जाना है। आज ये बीज बो दो तो 2047 में ये वटवृक्ष आपके बच्चों को ही फल देगा। मन बन जाए तो मंजिल दूर नहीं होती। ये काम राजनीतिक नहीं है, ये हर आदमी का काम है।

मैं प्रधानमंत्री हूं लेकिन मुझे खुशी है कि मैं आज इस यात्रा में आया हूं। अच्छी बात बताने से अच्छाई का वातावरण पैदा होता है। घर में पैसे कम होते हैं तो बच्चों की इच्छा पूरी नहीं कर पाते। वैसे ही देश को भी पैसे चाहिए। आज भारत के पास देने की ताकत आयी है। आपने मुझे देश का काम दिया है, उसे महादेव की कृपा से मैं जरूर पूरा करूंगा।

विकसित भारत के संकल्प को मजबूत कीजिए। उन्होंने कहा कि देश के सभी लोग विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं तो मेरा भी फर्ज बनता था कि मैं भी इसमें हिस्सा लूं। तो मैं भी आपके सेवक के रूप में आपके सांसद के रूप में आज आया हूं। सरकार जो योजना बनाती है, जिसके लिए बनाती है, वो योजना बिना परेशानी के उसके पास तक पहुंचे। उसे सरकार के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है।

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार को सामने से जाकर काम करना चाहिए। अभी भी खबर मिलती है कि कई लोगों को योजना का लाभ नहीं मिला है। तो हमने तय किया कि हम पता लगाएंगे, तो हिसाब-किताब भी मिल जाएगा। ये यात्रा मेरी भी कसौटी है, मेरी भी परीक्षा है। मैं आपसे सुनना चाहता था कि काम हुआ है कि नहीं। उन्होंने कहा कि सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की सफलता जानना और उससे लाभान्वित लोगों की जुबानी सुनने पर आत्म संतोष मिलता है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कटिंग मेमोरियल स्कूल मैदान में विकसित भारत संकल्प यात्रा प्रदर्शनी देखी और छात्रों एवं लाभार्थियों से बातचीत की। प्रदर्शनी में उन्होंने पीएम आवास, पीएम स्वनिधि, पीएम उज्ज्वला, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना जैसी विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों से सीधा संवाद किया तथा योजनाओ के बाबत जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने विकसित भारत यात्रा प्रदर्शनी में छात्रों एवं लाभार्थियों से वार्ता की।

उन्होंने कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित बच्चियों के अलावा आयुष्मान भारत योजना से लाभान्वित लाभार्थियों के साथ-साथ मौके पर मौजूद डॉक्टर से भी जानकारी ली। उन्होंने प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के लाभार्थियों स्ट्रीट वेंडरो से भी वार्ता कर उनका कुशल से पूछते हुए योजनाओं से लाभान्वित होने के बाबत जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने स्ट्रीट वेंडरो के स्टालों पर भी जाकर उनसे वार्ता की। इस दौरान उन्होंने स्ट्रीट वेंडरो द्वारा किये जा रहे डिजिटली लेनदेन पर उनकी तारीफ की। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की महिला लाभार्थियों से भी उन्होंने वार्ता की एवं उनका कुशलक्षेम पूछा।

प्रदर्शनी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के भविष्य छोटे-छोटे नौनिहालो से भी वार्ता कर दीवारों पर फलों-सब्जियों- जानवरों, गणित के विभिन्न आकृतियों तथा हिंदी व अंग्रेजी वर्णमाला के लगे पोस्टरों के माध्यम से बच्चों से जानकारी ली। उन्होंने बच्चे-बच्चियों से सवाल/जवाब करके शिक्षा के स्तर को भी परखा। इस दौरान बच्चियों ने प्रेयर एवं पोयम भी प्रधानमंत्री को सुनायी। उन्होंने बच्चों से वार्ता करते हुए भविष्य में वे पढ़-लिख कर क्या बनेंगे की भी जानकारी। प्रधानमंत्री से बातचीत के दौरान बच्चे काफी उत्साहित दिख रहे थे।इस दौरान उन्होंने स्मार्ट सिटी के बाबत काशी में कराये जा रहे कार्यों की भी विस्तार से जानकारी ली।


3 views0 comments

コメント


bottom of page