top of page
Search
  • alpayuexpress

वसंत पंचमी!..विद्या,ज्ञान,कला और संगीत की देवी मां सरस्वती का पर्व

वसंत पंचमी!..विद्या,ज्ञान,कला और संगीत की देवी मां सरस्वती का पर्व


मोहम्मद इसरार पत्रकार उप संपादक

गाजीपुर:- सैदपुर नगर पूरे क्षेत्र में तरह-तरह की प्रतिमाएं विराजमान रही दर्शन के लिए ग्रामीण क्षेत्र और नगर के लोग बच्चे काफी उत्साहित दिखाई दिए आज वसंत पंचमी है। इस तिथि पर विद्या, ज्ञान, कला और संगीत की देवी मां सरस्वती का जन्म हुआ था। वसंत पंचमी के पर्व को वागीश्वरी जयंती और श्रीपंचमी के नाम से जाना है। वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती की विशेष पूजा-आराधना की जाती है। शास्त्रों के अनुसार वसंत पंचमी को अबूझ मुहूर्त कहा जाता है। वसंत पंचमी के दिन सभी तरह के शुभ और मांगलिक कार्य करना बहुत ही शुभ माना जाता है। विवाह के लिए वसंत पंचमी का दिन सबसे अच्छा मुहू्र्त होता है। वसंत पचंमी पर देवी सरस्वती को पीले फूल और पीली मिठाई अर्पित करना शुभ माना जाता है। इस दिन सरस्वती वंदना और मंत्रों का जाप को करना शुभ लाभदायक रहता है। वसंत पंचमी का दिन शिक्षा और कला से जुड़े लोगों बहुत ही खास होता है। वसंत पंचमी के दिन विद्यारंभ करने से मां सरस्वती की विशेष कृपा मिलती है। सैदपुर रोजा द्वार जोहर गंज आदि जगह पर प्रतिमाएं बैठाए गए

1 view0 comments

Comments


bottom of page