Search
  • alpayuexpress

लुधियाना में कब्र से निकाली गई गली हुई लाश, ये मामला आपके होश उड़ा देगा




लुधियाना


लुधियाना में कब्र से निकाली गई गली हुई लाश, ये मामला आपके होश उड़ा देगा


जुन शुक्रवार 26-6-2020


( किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस-Alpayu Express)


लुधियानाः थाना बस्ती जाधेवाल पुलिस ने मंगलवार को मेहरबान के गांव सीड़ा के कब्रिस्तान से महिला का शव कब्र से बाहर निकलवा कर उसे पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया है। नाजो खातून नामक इस 37 वर्षीय महिला की उसके पति मोहम्मद महफूज आलम ने अपने जीजा रफीक के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी और आनन-फानन में शव को यहां लाकर दफना दिया था।


डिप्टी कमिश्नर वरिंद्र शर्मा से आर्डर हासिल करने के बाद दोपह करीब 3.15 बजे के आस-पास उत्तरी इलाके के असिस्टैंट कमिश्नर आफ पुलिस गुरबिंद्र सिंह, थाना प्रभारी सब इस्पैक्टर अर्शप्रीत कौर ग्रेवाल अपने लाव-लश्कर के साथ हत्यारोपियों को हथकड़ियां लगाकर कब्रिस्तान पहुंचे और उनकी निशानदेही पर शव को कब्र से बाहर निकाला गया। उस वक्त हलका पूर्वी के नायब तहसीलदार खुशविंदर सिंह व सिविल अस्पताल की महिला डॉक्टर मोनिका भी अपनी टीम के साथ मौजूद रही और इस कानूनी कार्रवाई की बकायदा वीडियो ग्राफी भी की गई।


बहन पर उछाल रहा है कीचड़


मृतक के भाई मोहम्मद उजालों का कहना है कि उसका जीजा अपनी काली करतूत छुपाने के लिए उसकी बहन के चरित्र पर कीचड़ उछाल रहा है। उसकी बहन बहुत सीधी-साधी थी और अपने परिवार के मान-सम्मान का ध्यान रखती थी, जबकि आरोपी उस पर बिना वजह जुल्म ढाता था।


गल चुकी थी लाश


नाजो के शव को जब कब्र खोद कर निकाला गया तो वह गल चुकी थी। उससे भयंकर बदबू आ रही थी। उसके टांगों पर लपेटी गई सफेद चादर पर खून के धब्बे थे। इस दौरान जांच के लिए कब्र की मिट्टी का सैंपल भी डिब्बा में ले लिया। वहीं मैडीकल टीम ने बताया कि जरूरत पड़ने पर पोस्टमार्टम के दौरान फारैंसिक एक्सपर्ट की मजज ली जाएगी। शव की हालत बेहद खस्ता है।


क्या था मामला


मूल रूप से बिहार के जिला सीतामढ़ी के रहने वाले महफूज को अपनी पत्नी नाजो के चरित्र पर शक था। 13-14 जून की रात तो उसने अपने जीजा के साथ मिलकर पत्नी की हत्या कर दी और हार्ट अटैक होने की अफवाह फैला दी। और अगले दिन उसका शव दफना दिया।

4 views0 comments