top of page
Search
  • alpayuexpress

लेकिन तब तक देर हो चुकी थी!...परिजनों ने किया अपने बच्चों के ‘नाबालिग प्रेम’ का विरोध तो...


लेकिन तब तक देर हो चुकी थी!...परिजनों ने किया अपने बच्चों के ‘नाबालिग प्रेम’ का विरोध तो...


मोहम्मद इसरार पत्रकार उप संपादक


सैदपुर। थानाक्षेत्र के शेखपुर में नाबालिग प्रेमी जोड़े ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। लेकिन ऐन मौके पर ट्रेन देखकर डर के मारे हट गए। इसके बावजूद चपेट में आने के चलते किशोरी का बायां हाथ जहां जड़ से कट गया, वहीं प्रेमी का दाहिना पैर कट गया और दाहिने हाथ की कुछ उंगलियां कट गयीं। मौके पर तत्काल भारी भीड़ जुट गई। पुलिस वहां पहुंची और एम्बुलेंस से उन्हें सीएचसी लाया गया, जहां से दोनों को रेफर कर दिया गया। मुहम्मदाबाद के मीरानपुर मड़िहाउं डीह का मूल निवासी 11वीं का छात्र मोनू राजभर 16 पुत्र दर्शन काफी समय से अपने ननिहाल नोनहरा के मुंडे़रा गांव में रहता है।

वहां उसी गांव की ही 9वीं की छात्रा सुनैनी राजभर 15 पुत्री मुन्नीलाल राजभर से उसकी आंख लड़ गयी। इसके बाद दोनों में प्रेम हो गया। दोनों के परिजनों को जानकारी हुई तो उन्होंने बेहद विरोध किया। जिसके बाद बीती रात दोनों घर से भाग आये और ट्रेन से औड़िहार जंक्शन पर पहुंचे। यहां दोनों पूरी रात रहे। इसके बाद सुबह करीब 8 बजे वहां से पैदल पटरियों पर चलते हुए शेखपुर में पहुंचे। वहां उन्हें डेमू ट्रेन आती दिखी। जिसके बाद दोनों ने एक दूसरे को गले लगाया और उसी अवस्था में पटरियों पर बैठ गए। वहां मौजूद एक ग्रामीण उन्हें डांट रहा था और पटरी से हटाना चाह रहा था, लेकिन ट्रेन नजदीक आ चुकी थी। इस बीच ट्रेन बेहद नजदीक देखकर दोनों प्रेमी युगल डर गए और पटरी से आखिरी वक्त में भागना चाहा। लेकिन तब तक देर हो चुकी थी और ट्रेन की चपेट में आ गए। जिसके चलते किशोरी का बायां हाथ जड़ से कट गया, वहीं किशोर का एक पैर पंजे के ऊपर के ऊपर से व कुछ उंगलियां कट गयीं। इसके अलावा टक्कर के चलते किशोर के सिर में गम्भीर चोटें आईं। ट्रेन गुजरने के बाद ग्रामीणों ने उन्हें पटरियों से हटाकर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को सीएचसी पहुंचाया, जहां से रेफर किया गया। किशोर का खून ज्यादा बह गया है। घटना के बाद किशोर के परिजन सैदपुर पहुंचे लेकिन किशोरी के परिजन नहीं आये। वहीं घटना के बाद किशोर के ही घर की महिला कोसते हुए कहा रही थी दोनों मर गए होते तो ज्यादा बेहतर होता। वहीं पूरे क्षेत्र में भी इस बात की पूरे दिन चर्चा रही।

3 views0 comments

Comments


bottom of page