top of page
Search
  • alpayuexpress

लापता किशोरी घायल अवस्था में मिली धान के खेत में!...गले पर गंभीर चोट के निशान,दुष्कर्म की आशंका

लापता किशोरी घायल अवस्था में मिली धान के खेत में!...गले पर गंभीर चोट के निशान,दुष्कर्म की आशंका


⭕तीन दिन पूर्व परिजनों ने थाने में दी थी तहरीर


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


रेवतीपुर/गाजीपुर:- खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर रेवतीपुर थाना क्षेत्र के उधरनपुर गांव से तीन दिन पूर्व रहस्यमय  परिस्थितियों में लापता हुई किशोरी सोमवार को क्षेत्र के टउवां गांव के बाहर धान के खेत में घायल अवस्था में बरामद हुई। किशोरी के गले पर किसी धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया गया था। लहूलुहान हालत में उसे मेडिकल कॉलेज लाया गया जहां से डॉक्टर ने उसे जिला महिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। घटना के संबंध में जानकारी प्राप्त होते ही एसपी समेत एसडीएम व अन्य प्रशासनिक अधिकारी महिला अस्पताल में पहुंचे जहां किशोरी का बयान लेने का प्रयास किया जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक किशोरी की हालत चिंताजनक बनी हुई थी।

3 दिन पूर्व परिजनों ने दी थी तहरीर

किशोरी के परिजनों का कहना है कि तीन दिन पूर्व ही जब किशोरी घर से लापता हुई थी तभी किसी अनहोनी की आशंका के मध्य नजर परिवार के लोगों ने रेवतीपुर थाने में तहरीर दी थी लेकिन पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया और आज इतनी बड़ी घटना घट गई।

कराह सुनकर पड़ी ग्रामीणों की नजर

ग्रामीणों के अनुसार घटना को अंजाम देने वाले लोगों ने मारा राशन स्थिति में किशोरी को धान के खेत में फेंका था जहां वह कराह रही थी। उसे रास्ते से होकर गुजर रहे कुछ लोगों ने जब घायल किशोरी की कराह सुनी तो वह रुक गए और किशोरी की हालत देखने के बाद तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी।

सक्रिय होती पुलिस तो नहीं होती वारदात

ग्रामीणों के अनुसार तहरीर मिलने के बाद यदि रेवतीपुर पुलिस तत्काल सकरी होकर लापता किशोरी की तलाश में जुड़ जाती तो शायद इतनी बड़ी घटना नहीं होती। परिवार के लोग लगातार थाने का चक्कर लगा रहे थे और यह भी आशंका जाता रहे थे कि किशोरी के साथ कोई भी अनहोनी हो सकती है फिर भी रेवतीपुर पुलिस ने समय रहते कोई कार्रवाई नहीं की।

जेसीबी चालक पर पुलिस को आशंका

इस मामले में पुलिस को सुहवल गांव के रहने वाले एक जेसीबी मशीन चालक पर आशंका है। सूत्रों के अनुसार पुलिस ने जेसीबी चालक का नाम पता कर लिया है और उसके घर पर दबिश भी डाला लेकिन वह नहीं मिला। पुलिस के अनुसार जेसीबी चालक का इस घटना से कोई न कोई तार जरूर जुड़ा हुआ है।

क्राइम ब्रांच और सर्विलांस टीम हुई सक्रिय

घटना के बाद से ही एसपी के निर्देश पर क्राइम ब्रांच और सर्विलांस टीम सक्रिय हो गई है। क्राइम ब्रांच प्रभारी रामाश्रय राय अपनी टीम के साथ लगातार दबी डाल रहे हैं। क्राइम ब्रांच के निशाने पर जेसीबी चालक बताया जा रहा है।

दुष्कर्म की भी उड़ रही आशंका

सूत्रों के अनुसार ग्रामीणों को आशंका है कि किशोरी के साथ दुष्कर्म भी हुआ है हालांकि इसकी पुष्टि आधिकारिक तौर पर नहीं हो पा रही है क्योंकि पुलिस बिना मेडिकल परीक्षण के कुछ भी बताने से इनकार कर रही है।

घटना को लेकर पीड़िता के गांव में तनाव

घटना को लेकर उधरनपुर गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है। सुरक्षा की दृष्टिगत रेवतीपुर समेत सुवाल व आसपास थाने की पुलिस फोर्स मौके पर लगा दी गई है। एएसपी ग्रामीण बलवंत कुमार के दिशा निर्देशन में पुलिस फोर्स पूरी तरह मुस्तैद है।

जिला महिला अस्पताल में अफसरों की जुटी भीड़

घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी ओमवीर सिंह समेत सदर एसडीएम, सीओ सिटी व अन्य पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी जिला महिला अस्पताल पहुंच गए। डॉक्टर ने परीक्षण के बाद किशोरी की हालत गंभीर बताई।

रेवतीपुर थानाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि 

परिवार के लोगों ने तीन दिन पूर्व तहरीर दी थी। तहरीर मिलने के बाद से ही लापता किशोरी की तलाश की जा रही थी। उसके साथ घटना घटी है लेकिन घटना को अंजाम किसने दिया है यह अभी पता नहीं चल पा रहा है।

4 views

Comments


bottom of page