Search
  • alpayuexpress

मरदह ब्लाक का कौन है....वह प्रधानाध्यापक जो खबर की जानकारी मागने पर पत्रकार से फोन पर मांगता है पत्र


मरदह ब्लाक का कौन है....वह प्रधानाध्यापक जो खबर की जानकारी मागने पर पत्रकार से फोन पर मांगता है पत्रकार की आईडी


अमित उपाध्याय, ब्यूरो चीफ


प्रधानाध्यापक ने खबर कवरेज के दौरान की सम्मानित पत्रकार से अभद्रता व वसूली का लगाया बेबुनियाद और फर्जी आरोप


गाजीपुर। खबर है गाजीपुर जिले के मरदह ब्लाक अंतर्गत की जहां पर कंपोजिट विद्यालय इंदौर में नियुक्त प्रधानाध्यापक अजय तिवारी सुबह विद्यालय में पत्रकारों को अचानक देख भव चक्के हो गए और जब पत्रकारों ने पूछा कि स्कूल के बच्चे दस बजे विद्यालय में और विद्यालय के बाहर क्यों घूम रहे हैं बच्चों के साथ कोई अनहोनी घटना भी हो सकती है और क्लास में अध्यापक नहीं है यह सवाल पत्रकारों द्वारा पूछते ही हेड मास्टर के होश उड़ गए और हेड मास्टर अपनी गलती को छुपाने के लिए उल्टे पत्रकारों पर ही जोर जोर से चिल्लाने लगे तब तक वहां पर काफी स्थानीय व विद्यालय के लोग इकट्ठा हो गए तो हेड मास्टर ने अपनी गलती छुपाने के लिए उल्टे पत्रकारों पर ही ₹10000 की मांग का फर्जी आरोप लगाते हुए विद्यालय व विद्यालय के समीप के अपने लोगों को हेड मास्टर ने इकट्ठा किया और उन्होंने धमकी देते हुए कहां की मैं बताता हूं कि आप लोग कैसे खबर कवर करते हैं और जिले में कैसे पत्रकारिता करते हैं और इसी पर वहां पर मौजूद लोगों ने अध्यापक की मनमानी और गलती की गंभीरता को देखते हुए दोनों पक्षों को समझाने में जुट गए जब कि पत्रकारों के साथ वहां के वर्तमान प्रधान राम भवन राम भी साथ में मौके पर मौजूद थे जैसे कि आपको बताते चलें कि त्योहारों का सीजन आते ही हर पत्रकार पर उनके वरिष्ठ संपादक का विज्ञापन के लिए दबाव बनना चालू हो जाता है और पत्रकार विज्ञापन लेने के लिए जी तोड़ मेहनत करने लगते हैं इसी तरह वर्तमान प्रधान राम भवन राम जी से विज्ञापन और उनके द्वारा किए गए अच्छे कामों की खबर कवर करने के लिए पत्रकार उनके पास गए हुए थे राम भवन राम द्वारा दिव्यांग शौचालय काफी सराहनीय तरीके से बनाया गया हैं उस खबर को कवरेज करने पत्रकार गये थे जैसे कि उसी कंपोजीट विद्यालय में दिव्यांग शौचालय बना हुआ हैं तभी पत्रकारों की नजर बच्चों पर पड़ी तो प्रधानाध्यापक से पत्रकारों ने पूछा कि बच्चे घूम रहे हैं अगर बच्चों के साथ में कोई अनहोनी घटना हो जाती है तो इसका जिम्मेदार कौन होगा हेड मास्टर कुछ देर अपनी गलती जानकर चुप्पी साधे रहे फिर वह अपनी गलती छुपाने के लिए उल्टा पत्रकारों पर ही चिल्लाने लगे और झूठा आरोप लगाकर स्थानीय लोगों को इकट्ठा कर लिया जब एक हेड मास्टर अपनी गलती छुपाने के लिए समाज के प्रहरी पत्रकारों पर ही झूठा आरोप लगा रहा है तब वह समाज के भविष्य बच्चों को क्या संस्कार देगे यह फैसला समाज को करना है यह एक प्रश्न चिन्ह है ?

123 views0 comments