top of page
Search
  • alpayuexpress

ब्लैक लिस्ट में अब नंबर आया इस माफिया का!...माफिया बदन सिंह बद्दो पर पुलिस क्यों चाहती है ढाई से 5 ल

ब्लैक लिस्ट में अब नंबर आया इस माफिया का!...माफिया बदन सिंह बद्दो पर पुलिस क्यों चाहती है ढाई से 5 लाख का इनाम


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पुलिस इन दिनों फरारी काट रहे माफियाओं के पीछे बड़ी शिद्दत से पड़ी है। पहले असद खान, गुलाम, अतीक अहमद, अशरफ और अनिल नागर उर्फ अनिल दुजाना निपटे। 61माफियाओं की ब्लैक लिस्ट से अनिल दुजाना का नाम हटते ही अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश का ढाई लाख का इनामिया कई साल से फरारी काट रहे बदन सिंह बद्दो से पुलिस सामना करने की तैयारी में जुट गई है।

पुलिस ने हाल ही में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है,जिसकी आहट से फिल्म साफ होती हुई दिखाई देने लगी है।जब से डीजीपी ऑफिस से शासन को बदन सिंह बद्दो पर कई साल से रखा गया ढाई लाख के इनाम को बढ़ाकर पांच लाख करने के लिए फाइल भेजी गई है,तभी से लखनऊ से लेकर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के माफियाओं में चर्चा है कि अगला नंबर क्या अब अनिल दुजाना के बाद बदन सिंह बद्दो का ही है।

दरअसल फरारी काट रहे किसी भी माफिया,बदमाश या गैंगस्टर की औकात पुलिस की नजरों में क्या होती है।इसका अंदाजा माफिया पर उसकी गिरफ्तारी के लिए रखे गए इनाम से होती है।कई साल पहले बदन सिंह बद्दो पुलिस की कस्टडी से फरार हो गया था।बदन सिंह बद्दो की गिरफ्तारी के लिए उस पर ढाई लाख का इनाम तो बहुत पहले ही रखा गया था, लेकिन अब बदन सिंह बद्दो की गिरफ्तारी के लिए पुलिस चाहती है कि उसके ऊपर रखे ग‌ए ढाई लाख के इनाम को बढ़ाकर पांच लाख कर दिया जाए।

शराब पिलाकर फरार हो गया था बद्दो

मेरठ के टीपी नगर थाना क्षेत्र के बेरीपुरा निवासी माफिया बदन सिंह बद्दो पर हत्या, रंगदारी, वसूली जैसे गंभीर धाराओं में 40 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं।हत्या के एक केस में बद्दो को उम्रकैद की सजा मिली हुई थी।बद्दो जब फतेहगढ़ केंद्रीय कारागार में सजा काट रहा था, तब उसे एक मामले में गाज़ियाबाद की अदालत में पेश किया जाना था। 28 मार्च 2019 को पुलिस अभिरक्षा में बद्दो को गाजियाबाद लाया गया।पेशी के बाद बद्दो ने अपनी अभिरक्षा में आए पुलिस वालों को मेरठ होकर जाने के लिए राजी कर लिया। पुलिस टीम उसे लेकर मेरठ के मुकुट महल होटल पहुंची।इस होटल में बद्दो का भी शेयर था।होटल में सभी पुलिसवालों की जमकर खातिरदारी हुई। खाने के साथ-साथ शराब परोसी गई। पुलिस वालों को इतनी शराब पिलाई गई कि वे नशे में धुत हो गए। इसका फायदा उठाकर बद्दो भाग निकला।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बद्दो चार साल से अपने परिवार के साथ आस्ट्रेलिया में रह रहा है।हालांकि बद्दो की लोकेशन फ्रांस, नीदरलैंड समेत कई देशों में भी पाई जा चुकी है। बद्दो को पहले भी कई बार पकड़ने की कोशिश हो चुकी है,लेकिन सफलता हाथ नहीं लग सकी।सूत्रों के मुताबिक कयास लगाए जाते रहे हैं कि फरार हो जाने के बाद बद्दो नेपाल के रास्ते विदेश भाग गया था।सोशल मीडिया पर एक्टिव बद्दो की पिछले दिनों विदेश में होने की तस्वीरें भी सामने आई थीं।

कौन है माफिया बदन सिंह बद्दो

ऐसा माना जाता है कि बदन सिंह बद्दो ने 1988 में जरायम की दुनिया में कदम रखा था। बद्दो ने साल 1996 में एक वकील की हत्या कर दी थी। इस मामले में बद्दो को उम्रकैद की सुजा सुनाई गई थी।साल 2011 में बद्दो ने मेरठ जिला पंचायत के सदस्य संजय गुर्जर की हत्या कर दी थी।इसके बाद साल 2012 में बद्दो ने एक केबल नेटवर्क के संचालक पवित्र मैत्रे की हत्या कर दी थी।

1 view0 comments

Comments


bottom of page