top of page
Search
  • alpayuexpress

बिरनो टोल प्लाजा मारपीट मामले में नया मोड़!..झूठी कहानी बनाकर खुद को बताया पीड़ित

बिरनो टोल प्लाजा मारपीट मामले में नया मोड़!..झूठी कहानी बनाकर खुद को बताया पीड़ित


अजय कुमार सीनियर रिपोर्टर


गाज़ीपुर:- खबर गाजीपुर से है।जहां बिरनो टोल प्लाजा विवाद के मामले मे नया मोड़ आ गया है।टोल प्लाजा के मैनेजर ने बयान देते हुये दूसरे पक्ष पर मारपीट और तोड़फोड़ का आरोप लगाया है।गौरतलब है की पिछ्ले 27 फरवरी को बिरनो टोल प्लाजा पर शव वाहन से जा रहे लोगों का टोल टैक्स को लेकर टोल प्लाजा के कर्मचारियों से विवाद हुआ था।इस मामले मे 5 मार्च को शव वाहन से जा रहे लोगों ने एसपी गाजीपुर से लिखित शिकायत करते हुये टोल प्लाजा के मैनेजर,कर्मचारियों और बिरनो एसएचओ पर 2 लाख रुपये जबरन वसूलने का आरोप लगाया था।आरोप था कि अन्तिम संस्कार कर शव वाहन से लौट रहे लोगों से टोल टैक्स मांगा गया।जबकि शव वाहन पर टोल टैक्स का नियम है।इस बात का विरोध करने बिरनों एसएचओ की मिलीभगत से टोल प्लाजा के मैनेजर ने जबरन यूपीआई के जरिये पीड़ितो से 2लाख रुपये वसूल किये।

शिकायत पर एसपी ने बिरनो थाना प्रभारी को निलम्बित कर दिया था,और मामले की जांच एएसपी को सौंपी थी।अब इस मामले मे टोल प्लाजा मैनेजर ने बयान देते हुये कहाकि टोल प्लाजा पर विवाद के दौरान दूसरे पक्ष ने कर्मचारियों से मारपीट और प्लाजा पर जमकर तोड़फोड़ की।इस घटना से कई कर्मचारी घायल हो गये,जबकि टोल प्लाजा का 5 लाख रुपये का सामान और उपकरण क्षतिग्रस्त हो गया।इस मामले की एफआईआर के लिये स्थानीय थाने पर तत्काल तहरीर दी गयी थी।लेकिन दूसरे पक्ष ने तोड़फोड़ मे क्षतिग्रस्त हुये सामानों के मुआवजे के रुप मे 2 लाख रुपया कम्पनी के अकाउंट मे जमा किया तो दोनो पक्षो मे समझौता हो गया था।लेकिन दूसरा पक्ष झूठी कहानी बनाकर और खुद को पीड़ित बताकर पूरे मामले की गलत तस्वीर पेश कर रहा है।

5 views0 comments

Comments


bottom of page