top of page
Search
  • alpayuexpress

बारिस व ओलावृष्टि से किसानों के नुकसान का जायजा लेने खेतो में पहुँचे डीएम ,अधिकारी।

बारिस व ओलावृष्टि से किसानों के नुकसान का जायजा लेने खेतो में पहुँचे डीएम ,अधिकारी।


अरविन्द तिवारी पत्रकार


सोनभद्र:- जिले के रॉबर्ट्सगंज तहसील क्षेत्र के अमोखर, तेंदुपुल क्षेत्र के कई गांवों में बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि के कारण किसानों के खेत मे खड़ी फसल खराब हो गयी है। प्रदेश सरकार ने असमय हुई बारिस से किसानों के बर्बाद हुए फसल का आंकलन कर मुआवजा तय करने के आदेश सभी जिले के डीएम को दिए है। ऐसे में सोनभद्र में पांच दिनों से हो रहा बारिस व ओलावृष्टि से फसलों के नुकसान का आकलन करने डीएम चन्द्र विजय सिंह खेतो में पहुँच गए और किसानों से बात कर उनके फसलों का जायजा लेकर मुआवजा दिए जाने का आश्वाशन दिया है।

वही पीड़ित किसानों ने बताया है बेमौसम बरसात और अत्यधिक ओलावृष्टि से भारी नुकसान हुआ है इससे खड़ी गेंहू फसल और सरसों की फसल बर्बाद हो चुका है। और किसान सरकार से बर्बाद फसल की मुवावजे की मांग भी कर रहे है। सोनभद्र में सबसे ज्यादा ओलावृष्टि हुई है शिमला की तरह बर्फ से खेत ,सड़क व खलिहान ढक से गये है। बारिस से गेहूं ,चना ,मटर व सब्जियों को भारी नुकसान हुआ है।

वही जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह व एसडीएम सदर रमेश कुमार सहित कई राजस्वकर्मी खेत की पगडंडियों से जाकर ओला बृष्टि से खराब फसलों का निरीक्षण कर किसानों को बीमा कंपनियों से मुवावजे का भरोसा भी दिला रहे है। जिलाधिकारी चन्द्र विजह सिंह ने बताया कि जनपद में 18 मार्च से 20 मार्च तक भारी वर्षा की सम्भावना के दृष्टिगत जनपद स्तर पर बचाव हेतु एडवाइजरी जारी की गयी है, जनपद में 18 से 20 मार्च तक भारी वर्षा की सम्भावना व्यक्त की गयी है इसके दृष्टिगत सभी लोग पूरी सावधानी बरतें। पुराने जर्जर भवनों से निकलकर सुरक्षित स्थानों पर चलें जाये, केवल आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकलें। भीड़-भाड़ वाले एवं टै्रफिक जाम वाले क्षेत्रों में जाने से बचें, खुलें सीवर व बिजली के तारों से बचकर रहें। किसानों के नुकसान फसल का पूरा जायजा लिया जा रहा है जिन किसानों की फसल नुकसान हुई है उनको मुआवजे की धन राशि जल्द दिलवाने की कोशिश होगी किसी किसान भाई को चिंता करने की कोई बात नही है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page