top of page
Search
  • alpayuexpress

बच्चों का आधार नामांकन एवं सत्यापन कार्य में उदासीनता बरतने वाले 380!...विद्यालयों के अध्यापकों का व

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


बच्चों का आधार नामांकन एवं सत्यापन कार्य में उदासीनता बरतने वाले 380!...विद्यालयों के अध्यापकों का वेतन बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने रोका


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर-परिषदीय विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों का आधार नामांकन एवं सत्यापन कार्य में उदासीनता बरतने वाले 380 विद्यालयों के अध्यापकों का वेतन बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने रोक दिया है। सत्यापन का कार्य पूरा करने के बाद ही उनका इस माह का वेतन आहरित किया जाएगा। जिले में 2269 परिषदीय विद्यालय संचालित होते हैं। इन विद्यालयों में 3 लाख 23 हजार बच्चे प्रेरणा पोर्टल पर पंजीकृत है। इन बच्चों को 2-2 ड्रेस, स्वेटर,जूता मोजा बैग तथा स्टेशनरी की खरीद के लिए उनके अभिभावकों के खाते में 12 सौ की धनराशि भेजी जाती है। काफी समय बाद भी बड़ी संख्या में बच्चों के अभिभावकों को यह धनराशि नहीं मिल सकी है। बच्चों के पास आधार ना होने की वजह से उनका सत्यापन नहीं हो पाया है। इसके चलते उनके अभिभावकों के खाते में निर्धारित धनराशि नहीं भेजी जा सकी है। इस मामले को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने गंभीरता से लिया है ।बेसिक ने संबंधित विद्यालयों के अध्यापकों का वेतन रोक दिया है। इस संबंध में बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने बताया कि 380 विद्यालयों के अध्यापकों का वेतन रोक दिया गया है जिन विद्यालयों की तरफ से सत्यापन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा उनका इस माह का वेतन आहरित कर दिया जाएगा। आधार नामांकन एवं सत्यापन में तकनीकी दिक्कत को समस्या का कारण बताया जा रहा है।इस खबर को आप इस तरह से समझें की यदि एक विद्यालय पर 5 शिक्षक तो 380 विद्यालय का मतलब हुआ 380× 5=1900 सौ शिक्षक।

1 view0 comments

Comments


bottom of page