top of page
Search
  • alpayuexpress

फर्जी अध्यापिका निकली अपराधियों की करीबी!...फर्जी तरीके से सहायक अध्यापक पद पर कर रही थी नौकरी और अब

फर्जी अध्यापिका निकली अपराधियों की करीबी!...फर्जी तरीके से सहायक अध्यापक पद पर कर रही थी नौकरी और अब हुई गिरफ्तार


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर:- खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर फर्जी वाडे का एक सनसनिक खेज मामला ऐसा सामने आया है की फर्जी वाडा करने वाले को सलाखों के पीछे जाना पड़ गया है आपको बताते चले की काफी दिनों से फर्जी दस्तावेज लगाकर शिक्षक बनी पूर्व अध्यक्ष पर प्रशासन की नजर थी वही आज तड़के सुबह भारी फोर्स पहुंचकर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। अपराध और अपराधिक कार्यों में लिप्त सफेदपोशों पर कार्यवाही लगातार जारी है, आज गाजीपुर की पुलिस ने नगर पंचायत बहादुरगंज गाजीपुर के चेयरमैन रियाज अंसारी की पूर्व चेयरमैन पत्नी निकहत परवीन को फर्जीवाड़े के एक मामले में गिरफ्तार कर लिया है। ये दोनो पति पत्नी 6 बार से चेयरमैन पद पर काबिज हैं और क्षेत्र में काफी रसूखदार माने जाते हैं, ये कुनबा कभी बसपा तो कभी सपा से जरूरत के हिसाब से बनते रहते हैं। गिरफ्तारी की सूचना एसपी गाजीपुर ओमवीर सिंह ने आज प्रेस कांफ्रेंस कर मीडिया को दी, उन्होंने बताया कि जिला अल्प संख्यक विभाग की तरफ से बहादुर गंज नगर पंचायत की पूर्व चेयरमैन निकहत परवीन फर्जी कागजातों के आधार पर मदरसा मदरसतुल मस्कीन, बहादुरगंज में फर्जी तरीके से सहायक अध्यापक पद पर कर रही थी नौकरी और फर्जी तरीके से सरकारी कोष से वेतन भी ले रही थी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अध्यापिका / पूर्व चेयरमैन के पति व वर्तमान चेयरमैन का आई एस 191 गैंग के सरगना मुख्तार अंसारी गैंग से काफी करीबी रिश्ता है और इन दोनों की और इनके सहयोगियों की गहन जांच की जा रही है, पूर्व चेयरमैन को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है

18 views0 comments

Comments


bottom of page