Search
  • alpayuexpress

पूर्व सांसद अतीक के घर छापेमारी, ईद पर बेटे व भाई के घर आने की थी सूचना



(रितिक रजक की रिपोर्ट)


मई मंगलवार 26-5-2020


पूर्व सांसद अतीक के घर छापेमारी, ईद पर बेटे व भाई के घर आने की थी सूचना


खुल्दाबाद इलाके के चकिया में सोमवार शाम एक दर्जन से ज्यादा गाडिय़ों में पुलिस बल ने जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद और उनके साढू इमरान के घर में छापा मारा। सूचना थी कि ईद के मौके पर अतीक का पुत्र उमर, भाई अशरफ और देवरिया जेल कांड में वांछित साढ़ू इमरान घर पर मौजूद हैं मगर दो घंटे तक खोजबीन में कोई मिला नहीं।पूर्व सांसद अतीक अहमद करीब तीन साल से जेल में हैं। देवरिया जेल कांड के बाद पिछले साल भर से वह सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अहमदाबाद जेल में बंद हैैं। उनका भाई पूर्व विधायक अशरफ तो तीन साल से भी ज्यादा वक्त से फरार है। वह अतीक के साथ ही उनके निवास के एक हिस्से में रहता था।अतीक के पुत्र 22 वर्षीय उमर को भी सीबीआइ देवरिया जेल कांड में दो लाख रुपये का इनामी भगोड़ा घोषित कर खोज रही है। साढ़ू इमरान पर कई आपराधिक मुकदमे हैं। जनवरी 2019 में धूमनगंज के डीलर जैद को बंधक बनाकर देवरिया जेल में अतीक के पास ले जाकर पीटने और पैसे छीनकर धमकाने के मामले में इमरान भी वांछित है। पिछले महीने भी पुलिस ने इमरान के घर छापेमारी की थी मगर वह मिला नहीं था।रविवार को इमरान के खिलाफ खुल्दाबाद और अशरफ के खिलाफ धूमनगंज थाने में लाइसेंस निरस्त होने के बाद भी असलहा नहीं जमा करने का मुकदमा लिखा गया था। सोमवार दोपहर पुलिस को खबर मिली कि इमरान ईद के मौके पर चकिया स्थित अपने घर में मौजूद है। इस पर एएसपी अनिल कुमार के नेतृत्व में धूमनगंज खुल्दाबाद, करेली, शाहगंज, कैंट, सिविल लाइंस, महिला थाना समेत कई दूसरी शाखाओं की टीम शाम पांच बजे राजरूपपुर चौकी पर जुटी।इसके बाद पुलिस ने अलग-अलग रास्तों से चकिया जाकर अतीक और इमरान के घर को घेरकर छापा मारा। इससे पहले आसपास की गलियों और सड़कों को घेर लिया गया था ताकि आरोपित भागने नहीं पाएं। हालांकि दो घंटे की तलाशी में कोई पकड़ा नहीं गया। अतीक के निवास पर उनके पुत्रों समेत परिवार के लोग मिले जिनसे एएसपी ने अशरफ और उमर के बारे में पूछा तो बताया गया कि वे नहीं आए और न कोई सूचना है। घर की तलाशी के बाद पुलिस फोर्स लौट गई।

1 view0 comments