top of page
Search
  • alpayuexpress

प्रेरणा दिवस!...भाजपा पिछड़ा मोर्चा द्वारा महात्मा ज्योतिबा राव फुले की आज 197 वीं जयन्ती भाजपा जिला

प्रेरणा दिवस!...भाजपा पिछड़ा मोर्चा द्वारा महात्मा ज्योतिबा राव फुले की आज 197 वीं जयन्ती भाजपा जिला कार्यालय पर मनाई गई।


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर।सामाजिक न्याय सप्ताह अंतर्गत भाजपा (पिछड़ा मोर्चा) द्वारा महात्मा ज्योतिबा राव फुले की आज 197 वीं जयन्ती भाजपा जिला कार्यालय पर प्रेरणा दिवस के रुप मे मनाई गई।

इस अवसर पर आयोजित विचार गोष्ठी के मुख्य अतिथि जिला प्रभारी अशोक मिश्रा ने कहा कि ज्योतिबा राव फुले समाज मे फैली कुरूतियों तथा सामाजिक बुराइयों को समाप्त करने के लिए सदैव संघर्ष किया।उन्होंने कहा कि कोई ऐसा काल या युग नही रहा जिसमें कुछ सामाजिक कुरितियां न रही हों और समय समय पर इसका प्रतिकार भी हुआ है।गुलामी कि प्रवृत्ति इस देश से आज भी पुरी तरह से नही गई है।ज्योतिबा फुले व्यक्ति नही बल्कि पति पत्नी दोनो लोग सामाजिक बुराइयों के समाप्ति के लिए एक सम्पूर्ण आंदोलन थे।

विशिष्ट अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह ने कहा कि सुधारवादी विचारों के महापुरुष ज्योतिबा फुले और सावित्री बाई फुले को सामाजिक कुरितियों के खिलाफ संघर्ष के दौरान बहुत ही कठिनाइयों तथा उपेक्षा का सामना करना पडा।सपना सिंह ने उपस्थित महिलाओं कि ओर मुखर हो कर कहा कि वर्तमान परिस्थितियों मे सामाजिक बुराइयों से डरने का नही संघर्ष करने कि जरूरत है ।

मुख्य वक्ता लोकसभा प्रभारी कृष्ण बिहारी राय ने अपने विचार उदबोधन मे कहा कि ज्योतिबा राव फुले ने समाज मे प्रेरक संदेश दिया कि शिक्षा शेरनी का दूध है।सामाजिक बुराइयों के प्रति उन्होंने बताया कि आपसी एकता और समानता के अभाव मे समाज मे अस्थिरता फैलती है।लोगों मे पारस्परिकता का अभाव सामाजिक बुराइयों को जन्म देता है।श्री राय ने आगे कहा कि पुर्व के जमाने मे देश मे फैला अंधविश्वास देश कि बुनियाद को कमजोर किया, सामाजिक असंतुलन को बढावा दिया जिसका परिणाम रहा कि हमारा देश वर्षों तक गुलाम रहा।अगर अपने जन्म से दो सौ वर्ष पुर्व महात्मा फुले का जन्म हुआ होता तो देश कभी गुलाम ही नही हुआ होता। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी ने शिकागो सम्मेलन मे ही भारत के जीवन शैली को सिद्ध कर दिया था कि भारत कि जीवन शैली मानव जीवन जीने की सर्वोत्तम जीवन शैली है।और कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शासन करने कि कला आज जहाँ विपक्षियों को हताशा दे रही है तो वहीं शोधकर्ताओं को एक विषय प्रदान किया है।

जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह ने कहा कि देश कि युवा पिंढी जो भागम भाग कि जिन्दगी मे अपने महापुरुषों को भुलती जा रही थी, उन्हें सम्मान और और याद करने का काम हमारी भाजपा की सरकार कर रही है।उन्होंने कहा कि ज्योतिबा राव फुले समाज के शोषित, वंचित, दलितों के लिए सदैव संघर्ष करते रहे।

पुर्व विधायक कालीचरन राजभर ने कहा कि कुछ लोगों ने महापुरुषों को भी जाति वर्ग मे बाँट कर रखा, लेकिन भाजपा समाज के सभी महापुरुषों को समान रुप से सम्मान दे रही है।

इस अवसर पर विचार गोष्ठी का शुभारंभ महात्मा ज्योतिबा फुले तथा भाजपा महा मनिषियों पं दीनदयाल उपाध्याय एवं डा श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्पांर्चन, दिप प्रज्वलन तथा वंदेमातरम गायन से हुआ।

कार्यक्रम कि अध्यक्षता जिलाध्यक्ष पिछडा मोर्चा अध्यक्ष मनोज बिंद तथा संचालन उपाध्यक्ष अनिल राजभर ने किया।

2 views0 comments

Comments


bottom of page