top of page
Search
  • alpayuexpress

प्रेम प्रसंग में चाचा ने की प्रेमी की पीट कर हत्या, दो हत्यारे हुवे गिरफ्तार

जमानिया/गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


प्रेम प्रसंग में चाचा ने की प्रेमी की पीट कर हत्या, दो हत्यारे हुवे गिरफ्तार


सुभाष कुमार सीनियर क्राइम रिपोर्टर


गाज़ीपुर:- ख़बर गाजीपुर जिले से है। जहां कल मंगलवार की सुबह ज़मानियाँ थाना के हेतिमपुर नहर पुलिया के पास अज्ञात शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गयी। सूचना पर थाना जमानिया टीम द्वारा 24 घण्टे के अन्दर सफल अनावरण करते हुए 02 अभियुक्तों को आलाकत्ल व मृतक का मोबाइल व घटना में प्रयुक्त 01अदद पिकअप के साथ गिरफ्तार किया गया। इस मामले में एसपी गाज़ीपुर ओमवीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अभियुक्तों को मीडिया के सामने पेश कर प्रेम प्रसंग में पिटाई से हत्या की पुष्टि की और बताया कि मृतक को लड़की के चाचा ने रंगे हाथ पकड़ कर पिटाई कर दी थी, जिसमें मौत हो गयी उसके बाद घटनास्थल से दूर हेतिमपुर पुलिया के पास शव को फेंक कर ये भाग गए थे।

पुलिस अधीक्षक गाज़ीपुर ने मंगलवार को आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि 13.12.2022 को स्वाट टीम और थाना जमानिया की संयुक्त टीम द्वारा जांच के बाद हत्यारोपी अभियुक्त ओमनाथ यादव व पंकज यादव पुत्रगण रामनगीना यादव, निवासी गोपालपुर थाना रेवतीपुर गाज़ीपुर को मुखबीर की सूचना पर गाज़ीपुर की ग्रामसभा देवरिया चट्टी से गिरफ्तार किया गया।

उल्लेखनीय है कि दिनांक 11/12.12.2022 को रात्रि हेतिमपुर बघरी नहर पर एक अज्ञात युवक का शव मिला था जिसकी पहचान अजय यादव पुत्र रामचन्द्र निवासी बहोरिक राय पट्टी थाना रेवतीपुर गाजीपुर के रुप में हुई । मृतक के भाई सुनील यादव के लिखित तहरीर पर थाना जमानिया पर मु0अ0सं0-408/2022 धारा 302 भादवि पंजीकृत हुआ । विवेचना के क्रम में पतारसी, सुरागरसी व इलेक्ट्रानिक साक्ष्य के आधार पर अभियुक्तगण दिनेश यादव, ओमनाथ यादव,पंकज यादव, रणजीत उर्फ बब्बन यादव पुत्र रामनगीना यादव निवासी गोपालपुर थाना रेवतीपुर गाजीपुर का नाम प्रकाश में आया। विवेचना के दौरान यह तथ्य प्रकाश में आया कि मृतक अजय यादव अभियुक्त दिनेश यादव की पुत्री के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था,दिनांक 11.12.2022 की रात्रि में मृतक पीकअप नंबर UP 14 FT 9987 से गोपालपुर अपनी प्रेमिका से मिलने गया था,जहा पर दोनो के मिलते समय ओमनाथ यादव ने देख लिया और मृतक को वही पर पक़ड लिया और अपने तीनो भाईयों पंकज,दिनेश व रणजीत यादव को मौके पर बुलाया और मृतक को मारे-पीटे, जिससे मृतक मौके पर बेहोश हो गया तो उसे बांधकर उसी पीकअप पर लादकर बघरी नहर पर रात में ले गये और वही पर उतार कर पीकअप में रखे हुए लोहे के पाना से मारकर हत्या कर दी और मृतक का मोबाइल व पाना को घटना स्थल से कुछ दूर नहर में फेक दिये थे।

अभियुक्तों के निशान देही पर मृतक की तोड़कर फेकी गयी मोबाइल व घटना में प्रयुक्त आलाकत्ल 01 अदद पाना घटना स्थल से आगे बुढाडीह के पास नहर के अन्दर से बरामद किया गया। अभियुक्तगण के विरुद्ध अन्य विधिक कार्यवाही कर जेल भेजा जा रहा है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page