top of page
Search
  • alpayuexpress

पोषण पखवाड़ा में विशेष योगदान देने वाली!...आंगनवाड़ी और सहायिकाओं को पुरस्कृत करने की सरकार बना रही

पोषण पखवाड़ा में विशेष योगदान देने वाली!...आंगनवाड़ी और सहायिकाओं को पुरस्कृत करने की सरकार बना रही योजना


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाज़ीपुर:- खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर भारत सरकार के द्वारा पिछले दिनों चलने वाला पोषण पखवाड़ा 2023 जिसका थीम मिलेट फ़ॉर न्यूट्रिशन रहा है। इस कार्यक्रम में विशेष योगदान देने वाली आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों एवं सहायिकाओं को भारत सरकार के द्वारा पुरस्कृत किए जाने की योजना है। जिसके लिए राज्य पोषण मिशन उत्तर प्रदेश के द्वारा एक पत्र बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग को भेजा गया था । जिसमें प्रत्येक ब्लॉक से दो आगनबाडी और दो सहायिकाओं का चयन कर इसका रिपोर्ट भेजा जाना है। जिसकी तैयारी अंतिम रूप विभाग के द्वारा किया जा रहा है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार पांडे ने बताया कि राज्य पोषण मिशन उत्तर प्रदेश के द्वारा एक पत्र विभाग को प्राप्त हुआ है। जिसमें प्रत्येक ब्लॉक से दो आंगनबाडी और दो सहायिकाओं का चयन कर उसका नाम मांगा गया है। जिसके लिए विभाग की तरफ से सभी परियोजनाओं को इस संबंध में पत्र भेज दिया गया है। सभी ब्लाकों पर उनके कार्य के आधार पर उनका चयन कर अंतिम लिस्ट भेजे जाने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि आगनबाडी और सहायिकाओं का चयन पोषण पखवाड़ा 2023 के कार्यों के आधार पर साथ ही भारत सरकार के द्वारा चलाई गई श्री अन्य योजना के प्रोत्साहन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने वाली आंगनबाड़ी और सहायिका के साथ जनसामान्य कार्य के आधार और आंगनबाड़ी केंद्रों का महीने में 21 दिनों का सफल संचालन के साथ कई अन्य बिंदुओं को आधार बनाया गया है। जनपद के कुल 17 परियोजनाओं से 34 आंगनबाडी और 34 सहायिकाओं का चयन किया जाना है जिसमें चयनित आगनबाडी को ₹5000 और सहायिकाओं को ₹2500 का पुरस्कार दिया जाना है। उन्होंने बताया कि इस तरह के चयन प्रक्रिया के बाद पुरस्कार देने हैं का मुख्य उद्देश उनके कार्यों में और गुणवत्ता लाना और उनका उत्साहवर्धन करना । ताकि गर्भवती किशोरी और कुपोषित आदि कुपोषित बच्चों के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं का सफल संचालन हो सके और इसका लाभ शत प्रतिशत तक पहुंचे।

1 view0 comments

Comments


bottom of page