top of page
Search
  • alpayuexpress

पीने के पानी को तड़पे मवेशी!...बेसो नदी में पानी नहीं होने से बेजुबान जानवरों के सामने पीने के पानी क

पीने के पानी को तड़पे मवेशी!...बेसो नदी में पानी नहीं होने से बेजुबान जानवरों के सामने पीने के पानी की किल्लत


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


जखनियां। खबर गाजीपुर ज़िले से है जहां पर क्षेत्र स्थित बेसो नदी में पानी नहीं होने से बेजुबान जानवरों के सामने पीने के पानी की किल्लत हो गई है। नदी किनारे बसे दर्जनों गांव जाहीं, कुड़िला, झोटना, तालगांव, मोलनापुर, वृंदावन, जोरवर आदि दर्जनों गांव के जानवरों के लिए पेयजल की समस्या खड़ी हो गई है। जाही गांव के घुरभारी यादव ने बताया कि पहले यह नदी मवेशियों के साथ ही नदी किनारे बसे लोगों के नहाने, कपड़ा साफ करने आदि में काफी मदद करती थी। लेकिन अब स्थिति विकट है। बताया कि ये नदी आजमगढ़ जनपद की सीमा से होकर आती है और शादियाबाद के पास उदंती नदी में समाहित हो जाती है। कहा कि आज के समय में ये नदी अतिक्रमण व प्रशासन की उपेक्षा के चलते नाले में तब्दील हो गई है। उन्होंने बताया कि यह नदी बरसात के दिनों में अत्यधिक पानी आने पर गांव में विकराल रूप लेकर बाढ़ ला देती है और फसलों को चौपट करने के साथ ही घरों को बर्बाद करती है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page