top of page
Search
  • alpayuexpress

पंचायती राज अधिकारी का आ गया फरमान!...बिरनो ब्लॉक के सफाई कर्मी संघ अध्यक्ष राजन यादव का हो गया स्था

पंचायती राज अधिकारी का आ गया फरमान!...बिरनो ब्लॉक के सफाई कर्मी संघ अध्यक्ष राजन यादव का हो गया स्थानांतरण।


⭕आखिरकार राजन यादव को ड्यूटी पीरियड में सोने की सजा मिली ही गई अब रेवतीपुर ब्लॉक क्षेत्र में करेंगे सफाई ।


सुभाष कुमार पत्रकार


गाजीपुर:- बिरनो ब्लॉक परिसर में विगत 10 वर्षों से कार्यरत सफाई कर्मी पद पर तैनात राजन सिंह यादव का पंचायती राज अधिकारी के द्वारा रेवतीपुर ब्लॉक में स्थानांतरण का फरमान जारी कर दिए गया हैं। सूत्रों के हवाले से पता चला कि सफाई कर्मी के पद पर तैनात राजन सिंह यादव की नियुक्ति होने के बाद पहली पोस्टिंग बिरनो ब्लॉक में हुई , थी नियूक्ति होने के बाद अपनी पहुंच और दबदबा होने के कारण लगातार तीसरी बार सफाई कर्मचारी संघ ब्लॉक अध्यक्ष चूने गए । फिर कुछ समय के लिए अन्य ब्लॉक में स्थानांतरित हुए , लेकिन कोरम पूरा होने के बाद अपने पहुंच के कारण फिर से बिरनो ब्लॉक में परिसर में ही तबादला कराकर राजनीति करने लगे । सूत्रों के हवाले से पता चला की राजन सिंह यादव ने अपने दबदबा बनाने के लिए कुछ नेताओं की जी हजूरी के साथ साथ अधिकारियों का भी सहयोग लेते थे। आपको बताते चलें की गांवों में ड्यूटी होने के बाद भी राजन यादव ने एडीओ पंचायत कार्यालय में काम कर रहे थें।मालूम पड़ता है की केवल ब्लॉक में ही इनकी ड्यूटी लगी है। आपको बताते चलें की सोचने की बात यह है की समय समय पर शासन प्रशासन के द्वारा अनेकों बार सफाई कर्मियों का स्थानांतरण किया गया ।

लेकिन राजन यादव सफाई कर्मी का स्तांतरण नहीं हुआ था । अक्सर बिरनो ब्लॉक में सफाई कर्मियों की पंचायत भवन पर सोने की खबर चलती रहती है । इनका भी मामला कुछ ऐसा ही है। कुछ दिन पहले बिरनो ब्लांक परिसर के एडीओ पंचायत कार्यालय में पत्रकारों ने देखा कि खरगपुर गांव में तैनात सफाई कर्मी राजन सिंह यादव ब्लॉक परिसर में सो रहे थे। वही पत्रकारों ने सफाई कर्मी संघ अध्यक्ष राजन सिंह यादव का सोते समय वीडीओ बना लिया गया वीडियो बनाने की जानकारी जब राजन सिंह यादव को चली तो काफी नाराज़ होते हुए , पत्रकारों से दुर्व्यवहार करने लगे । पत्रकारों ने इस मामले की जानकारी मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रकाश गुप्ता को दिया था । तत्पश्चात मुख्य विकास अधिकारी ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए , डीपीआरओ अंशुल मौर्या को करवाई करने का निर्देश दिए थे वही इस मामले की जांच करने के बाद डीपीआरओ ने सफाई कर्मी राजन सिंह का कुछ दिनों तक वेतन बाधित भी कर दिए थे लेकिन फिर कुछ दिनों बाद वेतन भी बाहाल कर दिए थे लेकिन जब इस मामले की जानकारी पत्रकारों को चली तो पत्रकारों ने नवागत मुख्य विकास अधिकारी संतोष कुमार वैश्य को अवगत कराया । मुख्य विकास अधिकारी ने इस मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए तत्काल डीपीआरओ अंशुल मौर्या को आदेशित किये की इस सफाई कर्मी को अन्य ब्लॉक में स्थानांतरित कर तत्काल सूचना प्रेषित करें । डीपीआरओ ने मुख्य विकास अधिकारी के निर्देशों का पालन करते हुए तत्काल प्रभाव से बिरनो ब्लॉक से रेवतीपुर ब्लाक में स्थानांतरित करने का निर्देश जारी कर दिए। जिसकी क्षेत्र में चर्चा का विषय बना है। ऐसे में यह देखना है की बाकी लापरवाह सफाई कर्मियों के अंदर किस तरह का असर देखने के लिए मिलता है ।

57 views0 comments

Comments


bottom of page