Search
  • alpayuexpress

नौकरी का झांसा देकर ठगने वाला गिरोह जिले में सक्रिय!...कप्तान ने लिया मामले को संज्ञान में, कप्तान क

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


नौकरी का झांसा देकर ठगने वाला गिरोह जिले में सक्रिय!...कप्तान ने लिया मामले को संज्ञान में, कप्तान के समक्ष पीड़ित की शिकायत हुई दर्ज


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है जिसे जानकर हैरानी तो जरूर होगी लेकिन जब घटना की पूरी जानकारी से आप अवगत होंगे तब मामला आपके समझ में आएगा जैसे कि बेरोजगारी और बेकारी की मार झेल रहे शिक्षित युवाओं को नौकरी का झांसा देकर

उन्हें ठगने वाला गिरोह सक्रिय हो गया है।

ऐसे ठग विभिन्न सरकारी विभागों में अपनी ऊंची पहुंच बताते हुए नौकरी का झांसा देकर अपने जाल में फंसाकर मोटी रकम वसूल कर चांदी काटने से बाज नहीं आ रहे हैं।

इसी तरह का एक मामला क्षेत्र के खड़ौरा गांव का प्रकाश में आया है। खड़ौरा गांव निवासी अजय कुमार पांडेय से उनकी पत्नी को आंगनबाड़ी में नौकरी दिलाने के नाम पर बिरनो थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव निवासी जयप्रकाश पाण्डेय उर्फ मुन्ना ने 1.7लाख ठग लिया। नौकरी न मिलने पर जब अजय कुमार पांडेय ने अपने पैसे की मांग की तो अजय कुमार पांडेय को धारदार हथियार लेकर दौड़ा लिया। इसके साथ ही दुबारा पैसे मांगने पर चेतावनी देते हुए झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी भी दिया।

उल्लेखनीय है कि खड़ौरा गांव निवासी अजय कुमार पांडेय ने अपनी पत्नी निधि को आंगनबाड़ी कार्यकर्ती की नौकरी के लिए फार्म भरा था। गोपालपुर गांव में उनकी दूर की रिश्तेदारी है। इसकी जानकारी होते ही रिश्तेदार के पड़ोसी जय प्रकाश पांडेय उर्फ मुन्ना अजय के घर पहुंच गया। बाल विकास परियोजना में अपनी ऊंची पहुंच बताकर उनकी पत्नी निधि को नौकरी दिलवाने की बात कहा। इसके लिए जयप्रकाश ने ढाई लाख रुपए की मांग किया। उसकी बातों की झांसा में आकर अजय कुमार पांडेय ने 1.70 लाख रुपए जयप्रकाश को दे दिया। तय समय तक नौकरी नहीं मिलने पर अजय पांडेय द्वारा अपने पैसे वापस मांगने पर जयप्रकाश टालमटोल करने लगा। ग्रामीणों द्वारा जब जानकारी हुई कि जयप्रकाश पाण्डेय उर्फ मुन्ना धोखेबाज और जालसाज किस्म का आदमी है। नौकरी दिलाने के नाम पर विभिन्न क्षेत्रों से कई लोगों से पैसा ऐंठ चुका है। तब अजय ने इस मामले की तहरीर बिरनो थाना पर दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। पिछले दिनों दैनिक जागरण के प्रश्न प्रहर में शामिल पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे को इस मामले से अवगत कराया तो उन्होंने पीड़ित को पुलिस अधीक्षक कार्यालय बुलाया। जहां पहुंचकर अजय ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई। इस मामले में थानाध्यक्ष दुल्लहपुर शैलेश कुमार मिश्रा ने बताया कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है।

2 views0 comments