Search
  • alpayuexpress

नर्तकियों और ग्रामीणों के बीच चल रहा मामला पहुंचा थाना दिवस में !....ग्रामीणों ने लगाया वेश्यावृत्ति

सेवराई/गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


नर्तकियों और ग्रामीणों के बीच चल रहा मामला पहुंचा थाना दिवस में !....ग्रामीणों ने लगाया वेश्यावृत्ति आरोप, नर्तकियों ने आरोप को बताया बेबुनियाद


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


सेवराई/गाजीपुर। विगत कई माह से एक गांव में नर्तकियों और ग्रामीणों के बीच चल रहा मामला शनिवार को थाना दिवस में पहुंचा। इस दौरान सीओ जमानिया एवं एसडीएम सेवराई की मौजूदगी में दोनों पक्षों का बयान दर्ज कराया गया। मामले की निष्पक्षता से जांच कर जिलाधिकारी को रिपोर्ट प्रेषित की जाएगी।

मालूम हो कि गहमर थाना क्षेत्र के एक गांव में वर्षों से नर्तकियों द्वारा नृत्य-संगीत का कार्यक्रम किया जाता है। इसी गांव के ग्रामीणों द्वारा यह आरोप लगाया जा रहा है कि नृत्य-संगीत के नाम पर यहां वेश्यावृत्ति का धंधा फल-फूल रहा है। विगत कई माह से चल रहे इस प्रकरण में ग्रामीणों द्वारा इसकी शिकायत जिलाधिकारी के यहां की गई थी। उसके पश्चात नर्तकियों ने जिलाधिकारी से मिलकर इस आरोप को बेबुनियाद बताते हुए जांच की मांग की थी, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा एडीएम की अध्यक्षता में एक जांच टीम का गठन किया गया। उसी परिप्रेक्ष्य में शनिवार को सीओ जमानिया सूर्य प्रताप शाही, एसडीएम सेवराई राजेश प्रसाद की मौजूदगी में थाना दिवस पर ग्रामीणों एवं नर्तकियों बयान दर्ज कराया गया। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि यह लोग नृत्य संगीत का कला नहीं, अपितु वेश्यावृत्ति करती है। जबकि नर्तकियों इस आरोप को बेबुनियाद एवं निराधार बताते हुए कहा कि प्रशासन हमारी जांच कर लें, हम पारंपरिक रूप से लोक गीत का गायन एवं नृत्य पेश करते हैं। यह पुरखों से चली आ रही हमारी परंपरा रही है। गांव के कुछ लोग इस कला के प्रदर्शन को जारी रखने के लिए हमसे पैसे की मांग किए और जब हम लोगों ने पैसे देने से मना कर दिया तो इसे झूठा वेश्यावृत्ति का आरोप लगाते हुए बंद करवाने की मांग कर रहे हैं। अगर यह कला बंद हो जाएगी तो हम लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट आ जाएगा। इस संबंध में एसडीएम सेवराई राजेश प्रसाद ने बताया कि दोनों पक्षों का बयान दर्ज किया गया है। मामले की निष्पक्षता से जांच कर रिपोर्ट जिलाधिकारी को प्रेषित की जाएगी।

2 views0 comments