Search
  • alpayuexpress

जालंधर सिविल हॉस्पिटल की बड़ी लापरवाही पॉजीटिव मरीज को नेगेटिव बता भेजा घर।फिर 4 घंटे बाद सुधारी भूल।





(वरिष्ठ पत्रकार किरण नाई की रिपोर्ट)

अप्रैल बुधवार 29-4-2020


जालंधर सिविल हॉस्पिटल की बड़ी लापरवाही पॉजीटिव मरीज को नेगेटिव बता भेजा घर।फिर 4 घंटे बाद सुधारी भूल।


जिन डॉक्टर कश्मीरी लाल,डॉक्टर तरसेम का शुक्रिया अदा कर घर पहुंचा था.मरीज विश्व शर्मा.उन्ही डॉक्टरों ने फोन कर उसे रात 11:30 बजे यह कह कर वापिस बुलाया कि तुम्हारी रिपोर्ट फिर से पॉजिटिव आई है ..

जालंधर: जालंधर का सिविल हॉस्पिटल हमेशा ही अपने किसी न किसी कारनामों से जाना जाता है।लेकिन कल मेयर के osd ने एक वीडियो जारीकर सिविल हॉस्पिटल की कुछ इमेज सुधारने मि कोशिश की थी।लेकिन वह इमेज कुछ घंटो में ही खत्म हो गई।जब बीते दिन रात को कोरोना पॉजिटिव मरीज की रिपोर्ट को नेगेटिव बताकर जालंधर सिविल अस्पताल से घर वापस भेज दिया, लेकिन शाम ढलते ढलते तक अस्पताल स्टाफ को (अपनी भूल कहे या गल्ती याफिर बड़ी लापरवाही)जैसा आप ठीक समझे ..उन्हें अहसास हो गया और उसे फोन करके वापिस बुला लिया गया। उससे बोला गया कि तुम्हारी रिपोर्ट फिर से पॉजिटिव ही आई थी, गल्ती से तुम्हें नेगेटिव समझकर घर भेज दिया इस व्यक्ति पर यह जानकारी किसी बम की तरह दिख रही है क्योंकि व्यक्ति अपने घर जाकर अपने परिवार वालों और रिश्तेदारों से भी मिल लिया और अब उसे अपने परिवार वालों की भी चिंता सताने लगी है,


मरीज विश्व शर्मा निवासी लावा मोहल्ला ने बताया कि घर में परिजनों के साथ ख़ुशी मनाकर आया है अब सिविल अस्पताल के डाक्टरों और स्टाफ की गलती के कारण उनके परिवार की भी जान को ख़तरा है।

ऐसी लापरवाही करने वाले डॉक्टर पर पंजाब सरकार को सख्त एक्शन करना चाहिए।

अब यह जांच का विषय है कि क्या यह आने वाली रिपोर्ट की गल्ती याफिर स्टाफ की बड़ी लापरवाही, क्योंकि पहले से ही लोगों के मन मे सिविल अस्पताल को लेकर काफी दुविधा बनी हुई है कि यहाँ कार्य करने वाले अधिकांश अधिकारी अपने उच्च अधिकारियों की बात या आदेश नही सुनते ..

1 view0 comments