Search
  • alpayuexpress

जौनपुर जिला अस्पताल में उस समय हंगामा मच गया जब एक महिला छींकते हुए परिजनों के साथ अस्पताल पहुँची।




(कृष्णा चौहान की रिपोर्ट)


मई रविवार 10-5-2020


जौनपुर जिला अस्पताल में उस समय हंगामा मच गया जब एक महिला छींकते हुए परिजनों के साथ अस्पताल पहुँची।


महिला की छींक को देख कर अस्पताल के लोग डर गए और डाक्टर हो या कर्मचारी कोई भी महिला के इलाज के लिए आगे नही आया। काफी देर तक महिला जिला अस्पताल के फर्श पर बैठी दर्द से तड़पती रही और परिजन इधर उधर डॉक्टरों के पास दौड़ते रहे। मामला सीएमएस के संज्ञान में आया तो उन्होंने फौरन महिला को एडमिट कराया और उसे दवा दिलाकर उसका सैम्पल जांच के लिए लिया।

परिजनों के साथ जिला अस्पताल में जा रही इस महिला को देखिए। महिला बीमार है और लक्षण कोरोना से मिलते है सायद इसी लिए जिला अस्पताल में इस महिला के पहुँचते ही सब लोग दूर भाग रहे है। आम जनता की छोड़िए यहां तो भगवान का दूसरा रूप कहे जाने वाले डॉक्टर भी इस महिला की मदद को आगे नही आ रहे। महिला काफी देर तक अस्पताल के फर्श पर तड़पती नजर आई। इस पूरी घटना को एक पत्रकार ने अपने कैमरे में कैद कर लिया। परिजनों ने बताया कि वो लोग बक्शा थाना क्षेत्र के रहने वाले है और कई घण्टे से वो लोग महिला को लेकर जिले के अस्पतालों के चक्कर लगा रहे है लेकिन उन्हें कही डाक्टर देखने को तैयार नही हुए। अब ये लोग जिला अस्पताल भी आये है तो यहां भी डॉक्टर या कर्मचारी महिला को देखने तक नही आ रहे है।


इस मामले में जब मुख्य चिकित्साधीक्षक से पूछा गया तो उन्होंने अस्पताल प्रशासन को दोषी न ठहराते हुए पत्रकार को ही सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया । सीएमएस के मुताबिक पत्रकार ने इस घटना को ऐसा रूप दे दिया जिसके बाद डॉक्टर और कर्मचारी डर गए थे लेकिन सीएमएस के कहने के बाद महिला को एडमिट किया गया है और उसे दवा दे कर उसका सैम्पल जांच के लिए भेजा जा रहा है।

1 view0 comments