top of page
Search
  • alpayuexpress

जिला अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र की हुई स्थापना

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


जिला अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र की हुई स्थापना


सुभाष कुमार सीनियर क्राइम रिपोर्टर


ख़बर ग़ाज़ीपुर से है। जहां जिला अस्पताल में पोषण पुनर्वास केंद्र की स्थापना की गई है।जिला अस्पताल द्वारा कुपोषित बच्चों के लिए 10 बेड का एक वार्ड बनाया गया है। वार्ड में कुपोषित बच्चों के लिए खेलने की सामग्री उनके मनोरंजन का साधन के साथ साथ उनके अभिभावकों के लिए एक बेड भी बनाया गया है जहां वह रह कर अपने पाल्य का देखभाल कर सकते हैं। साथ ही साथ जिला अस्पताल में इनके लिए कुपोषित बच्चों के लिए 14 से 28 दिन का एक समय अवधि का निर्धारण किया गया है और कुपोषित बच्चों को पोषित पुष्टाहार फल दूध आदि का जिला अस्पताल के तरफ से निशुल्क व्यवस्था किया गया है। बाल विकास आंगनवाड़ी केंद्र से प्राप्त कुपोषित बच्चों को पुनर्वास वार्ड में रखकर इनके शारीरिक और मानसिक विकास को ऊपर उठाया जाता है ।14 से 28 दिन के अंदर कुपोषित बच्चों का सामान्य वजन होने पर इनको वार्ड से डिस्चार्ज कर दिया जाता है।

जिला अस्पताल के सीएमएस डॉक्टर राजेश सिंह ने बताया कि सरकार के मंशा अनुरूप पोषण अभियान चलाया जा रहा है आंगनवाड़ी स्वास्थ्यकर्ता सीएससी द्वारा रेफर कुपोषित बच्चों के लिए पोषण पुनर्वास केंद्र की स्थापना किया गया है कुपोषित बच्चों को दवा के साथ साथ निशुल्क पौष्टिक भोजन की व्यवस्था की गई है।केंद्र में 10 बेड की व्यवथा है।14 28दिन में जब कुपोषित बच्चे का सामान्य वजन हो जाता है तो उसे डिस्चार्ज कर दिया जाता है।

1 view0 comments

Comments


bottom of page