Search
  • alpayuexpress

जिउतिया व्रत!...विवाहित महिलाओं ने अपने संतान की लंबी उम्र के लिए रखा निर्जला व्रत

सैदपुर/गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


जिउतिया व्रत!...विवाहित महिलाओं ने अपने संतान की लंबी उम्र के लिए रखा निर्जला व्रत


मोहम्मद इसरार पत्रकार (उपसंपादक)


सैदपुर/गाजीपुर:- बूढ़े नाथ मंदिर हिन्दू पंचांग के अनुसार आज जीवितपुत्रिका व्रत है. इसे भारत के कुछ हिस्सों में जिउतिया व्रत भी कहते हैं. यह निर्जला व्रत होता है, जिसे विवाहित महिलाएं अपनी संतान की लंबी उम्र के लिए करती हैं.

यह व्रत आश्व‍िन माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी को मनाया जाता है. हालांकि हिन्दू पंचांग में यह तीनों तक मनाया जाता है. यह कूष्ण पक्ष की सप्तमी से शुरू होकर नवमी तक चलता है. बिल्कुल छठ व्रत की तरह ही इस व्रत में पहले दिन नहाय खाय होता है. दूसरे दिन निर्जला व्रत और तीसरे दिन पारण होता है. यह व्रत खासतौर से बिहार, उत्तर प्रदेश और नेपाल में प्रचलित है.

इस बार जिउतिया व्रत की शुरुआत 18 सितंबर को मनाया गया इसमें हर मां अपने बच्चों की लंबी आयु के लिए नीरा जल व्रत रखती है सैदपुर तमाम घाटों पर काफी भीड़ देखने को मिली

11 views0 comments