Search
  • alpayuexpress

जब CM ने DIG से कहा-कहानी मत सुनाइए, एक्शन बताइए!...नाराज सीएम ने कहा ’ऐसी कार्रवाई करूंगा कि आप सब

मुरादाबाद/उत्तर प्रदेश


खबर का असर


जब CM ने DIG से कहा-कहानी मत सुनाइए, एक्शन बताइए!...नाराज सीएम ने कहा ’ऐसी कार्रवाई करूंगा कि आप सब लोग याद रखोगे’


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


पूछा-न्यूड लड़की से गैंगरेप हुआ था या नहीं? घटना नहीं हुई तो फिर अरेस्टिंग क्यों?


लखनऊ।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार की देर रात आयोजित प्रदेश भर के प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान मुरादाबाद के पुलिस अफसरों को जमकर फटकार लगाई। मुरादाबाद में एक नंगी लड़की का सड़क पर भागते हुए फोटो वायरल होने पर वह पुलिस अफसरों पर जमकर बरसे। इसके बाद खनन माफियाओं के एसडीएम से डंपर छीनकर ले जाने की घटना पर प्रभावी कार्रवाई न किए जाने पर नाराजगी दिखाई। दरअसल, नंगी लड़की के सड़क पर भागने का मामला अखिलेश यादव ने भी विधानसभा में उठाया था। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद एक अफसर ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि मुरादाबाद जिले की बारी आने पर सीएम ने पूछा, “सड़क पर नंगी दौड़ी लड़की से गैंगरेप हुआ था या नहीं? यदि घटना नहीं हुई, तो फिर एक अरेस्टिंग क्यों?“ सफाई देने की कोशिश कर रहे अफसरों को भी सीएम की डांट खानी पड़ी। वहीं, अवैध खनन में दोषियों पर एक्शन नहीं होने से नाराज सीएम ने कहा ’ऐसी कार्रवाई करूंगा कि आप सब लोग याद रखोगे।’ सीएम ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सबसे पहले भोजपुर गैंगरेप कांड के बारे में पूछा। सीएम को बताया गया कि मुरादाबाद के कप्तान हेमंत कुटियाल छुट्टी पर हैं। पहले तो सीएम ने इसी पर सवाल दागा कि कप्तान छुट्टी पर क्यों हैं? बाद में कप्तान की गैर मौजूदगी में मुरादाबाद रेंज के डीआईजी शलभ माथुर ने सीएम को बताया कि मामले में जांच चल रही है। इस पर सीएम नाराज हो गए। उन्होंने डीआइजी से कहा कि कहानी मत सुनाइए, स्पष्ट बताइए। उन्होंने पूछा-नाबालिग लड़की से गैंगरेप हुआ था या नहीं? अगर हुआ था तो फिर घटना में शामिल बाकी आरोपी अभी तक पकड़े क्यों नहीं गए? सीएम योगी ने कहा कि अगर पुलिस यह कह रही है कि कोई घटना हुई ही नहीं थी तो फिर एक अभियुक्त को गिरफ्तार क्यों किया गया? सीएम के सवालों पर पुलिस अधिकारी बगले झांकते रह गए। सीएम ने कहा कि आप लोग कोई भी कहानी सुना देते हैं, नीचे वाला जो कह दे, उसे ही ऊपर तक सुनाते रहते हैं।

इसके बाद मुरादाबाद में खनन माफिया के एसडीएम से डम्पर छीन ले जाने की घटना पर भी सीएम खफा नजर आए। सूत्रों का कहना है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सीएम ने मुरादाबाद के पुलिस-प्रशासनिक अफसरों से यहां तक कह डाला कि खनन माफिया और दोषियों पर आप एक्शन लेंगे या फिर मैं आप लोगों पर एक्शन लूं। सीएम बोले, ’ऐसी कार्रवाई करूंगा कि आप सभी को याद रहेगी।’ दरअसल, 13 सितंबर की रात को ठाकुरद्वारा थाना क्षेत्र में उत्तराखंड बॉर्डर के पास खनन माफियाओं ने एसडीएम परमानंद सिंह और खनन टीम से अभद्रता करके डंपर छीन लिए थे। खनन माफिया ने पूरी टीम को बंधक बना लिया था। खनन माफिया के इस दुस्साहस पर सीएम खफा थे और उन्होंने कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए। मुरादाबाद के कलेक्टर सीएम की नाराजगी देखकर खामोश हुए तो कमिश्नर आंजनेय कुमार सिंह ने सफाई देने की कोशिश की। कमिश्नर ने सीएम को बताया कि मुरादाबाद और रामपुर में खनन माफिया के खिलाफ पिछले तीन दिन से स्पेशल ऑपरेशन चलाया जा रहा है। डम्पर पकड़े जा रहे हैं और केस भी दर्ज हो रहे हैं, लेकिन सीएम इतने से संतुष्ट नहीं थे। उन्होंने पूछा कि अभियान तो ठीक है। लेकिन दोषियों पर एक्शन क्यों नहीं हुआ? कमिश्नर ने कहा कि दोषियों को चिन्हित किया जा रहा है। इस पर सीएम ने कहा कि, अभी तक दोषी चिन्हित क्यों नहीं किए गए? सूत्रों ने बताया कि बिना रॉयल्टी चुकाए जिले में उत्तराखंड से बालू-बजरी के डंपर लाए जाते हैं। इसमें पुलिस, प्रशासन और खनन विभाग के साथ ही कुछ नेताओं का भी नाम जुड़ रहा है। बताया जा रहा है कि यही कारण है कि पुलिस सख्ती से कार्रवाई नहीं कर रही है।

बता दें कि मुरादाबाद जिले के भोजपुर थाना क्षेत्र में एक सितंबर की देर शाम एक नाबालिग से गैंगरेप के बाद उसे निर्वस्त्र हालत में सड़क पर छोड़ देने की घटना सामने आई थी। पीड़िता के फूफा ने सात सितंबर को घटना की रिपोर्ट भोजपुर थाने में दर्ज कराई थी, जिसमें गांव के प्रधान के बेटे समेत पांच लड़कों को नामजद किया था। पुलिस के मुताबिक घटना वाली शाम पीड़िता गांव में ही मेला देखने गई थी। रास्ते में बाइक सवार युवक उसे जबरन उठाकर जंगल में ले गए थे और वहां उसके साथ गैंगरेप किया था। 15 सितंबर को पुलिस ने एक अभियुक्त को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। इसके बाद 20 सितंबर को एक महिला ने इस घटना की पीड़िता का एक वीडियो मुरादाबाद पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट किया था, जिसमें पीड़िता निर्वस्त्र हालत में सड़क पर दौड़ती नजर आ रही थी। मामला तूल पकड़ा

6 views0 comments