top of page
Search
  • alpayuexpress

छात्र हुए आक्रोशित!...मूल्यांकन में खामियों का आरोप लगाते हुए मुख्य द्वारा और प्राचार्य कक्ष में कर

गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


छात्र हुए आक्रोशित!...मूल्यांकन में खामियों का आरोप लगाते हुए मुख्य द्वारा और प्राचार्य कक्ष में कर दी तालाबंदी


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर:- खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर पूर्वांचल विश्वविद्यालय की ओर से सेमेस्टर मूल्यांकन में प्राप्तांकों पर नाराज छात्रों ने शनिवार को प्रदर्शन किया। पीजी कॉलेज के आक्रोशित छात्रों ने मूल्यांकन में खामियों का आरोप लगाते हुए मुख्य द्वारा और प्राचार्य कक्ष में तालाबंदी कर दी। कॉलेज प्रशासन के खिलाफ जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाए और सड़क पर उतर आए। कालेज प्रशासन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने छात्रों को हिरासत में लेकर शहर कोतवाली पहुंची। इसके बाद उन्होंने कोतवाली में बैठा दिया।सूचना मिलने के बाद कॉलेज के सैकड़ों छात्र सहित पूर्व छात्र नेता कोतवाली पहुंचे और नाराजगी जताई।हालांकि पुलिस और छात्र नेताओं के बातचीत के बाद गिरफ्तार छात्रों को मुचलका भरवा कर छोड़ दिया गया। शनिवार को छात्र नेता सोनू यादव ने कई छात्रों के साथ प्राचार्य से मुलाकात की और मूल्यांकन की खामियां गिनाई।इसके बाद प्राचार्य ने मूल्यांकन को सही बताते हुए छात्र नेताओं की बातों को अनसुना कर दिया। आक्रोशित छात्रों ने प्राचार्य समेत अन्य कई कार्यालयों में तालाबंदी कर दी और एकजुट होकर नारेबाजी शुरू कर दी। सैकड़ों छात्र सड़क पर आ पहुंचे और मुख्य गेट भी बंद करा दिया। इसके बाद प्राचार्य ने पुलिस को फोन करके कॉलेज में हो रहे हंगामे की सूचना दी।जानकारी पाकर पहुंची पुलिस ने छात्रों को हिरासत में ले लिया।चंद छात्रों के थाने पहुंचने की सूचना पर बड़ी संख्या में छात्र नेता और अभिभावक भी कोतवाली पहुंच गए।पुलिस को कॉलेज के छात्र नेताओं ने बताया कि सेमेस्टर की परीक्षा फल में हुई खामियों की शिकायत को ठीक कराने के लिए प्राचार्य को कई बार पत्रक सौंपा गया था लेकिन कॉलेज प्रशासन की ओर से कोई संज्ञान नहीं लिया जाता है। इससे जुड़ी जानकारी मांगने पर भी कोई शिक्षक सही जानकारी नहीं देते।परीक्षा फल के खामियों में कैसे सुधार होगा इस सवाल का जवाब किसी के पास नहीं। छात्र नेता सोनू यादव ने बताया कि प्राचार्य से छात्र अपनी मांगों को लेकर बातचीत कर रहे थे इसी दौरान पहुंची पुलिस ने गिरफ्तार कर छात्रों को कोतवाली लेकर पहुंच गई।कालेज प्रशासन की ओर से छात्रों के आवाज को दबाने के लिए पुलिस का सहारा लिया जा रहा है, यह ठीक बात नहीं है। सेमेस्टर परीक्षा में सुधार नहीं होने पर हमें वार्षिक परीक्षा में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। छात्र नेता रूद्र प्रताप चौबे ने कहा कि सेमेस्टर परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद उसमें कई खामियों की शिकायत प्राचार्य से किया गया तथा इसे लेकर पत्रक भी सौंपा गया था लेकिन कोई संज्ञान नहीं लिया गया। जिसके बाद तालाबंदी जैसे को कदम उठाना मजबूरी हो गयी। भी ।इस दौरान पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष पंकज उपाध्याय, पूर्व उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय, रणजीत यादव,दिनेश यादव ,दुर्गेश यादव, अभिषेक यादव, प्रिंस प्रजापति, यादवेंद्र यादव, आशुतोष कुशवाहा,कृष्णा यादव, सोनू यादव सहित अन्य सैकड़ों छात्र व छात्र नेता मौजूद रहे।

3 views0 comments
bottom of page