top of page
Search
  • alpayuexpress

ग्राम पंचायत का फैसला बना मिसाल!...तीन भाइयों के विवाद को ग्राम प्रधान प्रतिनिधि पंचम सिंह ने सुलझाय

ग्राम पंचायत का फैसला बना मिसाल!...तीन भाइयों के विवाद को ग्राम प्रधान प्रतिनिधि पंचम सिंह ने सुलझाया गांव पंचायत के न्यायालय में


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


मनिहारी। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर तीन भाइयों के जमीनी विवाद को ग्राम पंचायत प्रतिनिधि पंचम सिंह ने आपसी सुलह समझौते से सुलझाया वही ग्राम पंचायत यूसुफपुर में निष्पक्ष,निर्वाद हुए पंचायत के फैसले के बाद सर्वसम्मति से हुए समझौता से पुलिस प्रशासन का भी सरदर्द हल्का हो गया और जमीनी समस्याएं पुलिस थाने तक न पहुंचकर गांव में ही हल हो गई, जहां ग्राम वासियों की आर्थिक ,शारीरिक,सामाजिक व आपसी विवाद में होने वाला खर्च और प्रतिष्ठा बच गई

आइए आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला स्थानीय यूसुफपुर गांव के तीन भाईयों के आपसी विवाद जग जाहिर हो चुका था जो पूरे मुहल्ले गांव में अशांति कारण बन गया था ,वजह तीन भाइयों का आपसी विवाद जिसमें दिनेश दूबे,निर्मल दूबे,संजय दूबे "बबलू" के घर के बटवारा को गांव पंचायत के न्यायालय में न्यायाधीश के रुप में ग्राम पंचायत प्रतिनिधि पंचम सिंह द्वारा गांव के सम्भ्रांत व वरिष्ठ जनों के सभी के दलीलों को सुन तीनों भाइयों के पैतृक सम्पत्ति बंटवारे को निष्पक्ष, निर्वाद बाट व स्टैंप पेपर पर लिखवा कर सर्वसम्मति से फैसला दिया ,जिसे तीनों भाइयों ने सर्वमान्य कर एक अनोखी मिसाल पेश की है। इस समझौते पर फैसला के समय उपस्थित लेखक राजीव सिंह हरेंन्द्र मौर्या भरथ कन्नौजिया मो0- शेरे अली संजय सिंह लक्ष्मीकांत पाण्डेय (सफारी बाबा) मनोज सिंह रामरतन सिंह प्रमोद दूबे रामअवध गुप्ता राजेश जायसवाल व अन्य ने प्रधान प्रतिनिधि पंचम सिंह जी के इस फैसले का स्वागत कर हृदय से साधूवाद दिया है।

18 views0 comments
bottom of page