top of page
Search
  • alpayuexpress

गर्ल्स डिग्री कॉलेज में!...विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर में सैकड़ों छात्राओं को किया जागरूक

गर्ल्स डिग्री कॉलेज में!...विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर में सैकड़ों छात्राओं को किया जागरूक


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर भुड़कुडा थाना क्षेत्र के अलीपुर मदरा स्थित माता तेतरा देवी गर्ल्स डिग्री कॉलेज में आज विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया ।कार्यक्रम का शुभारंभ नायब तहसीलदार सत्येंद्र मौर्य, एडवोकेट अखिलानंद सिंह ने मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किए ।इस पर मौके पर छात्राओं को संबोधित करते हुए नायब तहसीलदार सत्येंद्र मौर्य ने कहा कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण में प्रत्येक नागरिक का दायित्व है कि किसी भी विषम परिस्थिति में न्याय पाने के लिए इस विधि सेवा का प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि छात्राओं को जागरूक होने की जरूरत है। सरकार द्वारा लगातार जागरूकता अभियान चलाई जा रही है। सरकार के हेल्पलाइन नंबर वितरित किए गए हैं ।जिसमे कोई समस्या होती है जैसे छेड़खानी परिवारवाद घटनाक्रम सहित अन्य अपराध पर चुप न रहे तत्काल सहारा ले।जिसके साथ कानून से न्याय पाने के लिए बेहिचक अपनी बातों को बताएं। विधिक साक्षरता शिविर में कानूनी साक्षरता के साथ साथ समाज में प्रेम और सौहार्द का वातावरण निर्मित किया जाता है। इन शिविरों का उद्देश्य है कि आपसी भाईचारा कायम रहे और लोग विधि के बारे में जागरूक हो। स्नातक की छात्रा अंशु पांडे ने सवाल किया कि अगर पुलिस या सरकारी कर्मचारी किसी मामले का सुनवाई नहीं करते हैं तो क्या करनी चाहिए। इसका जवाब नायब तहसीलदार सत्येंद्र मौर्य ने कहा कि कोई सरकारी कर्मचारी अगर पब्लिक से बदतमीजी करता है तो उनके ऊपर के अधिकारियों को अवगत कराएं फिर भी सुनवाई नहीं होता है तो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में शिकायत करें ताकि आप को न्याय मिल सके। जिला विधिक सेवा के लिपिक अवधेश शर्मा ने कहा कि कभी किसी अपराध में के प्रति दबाना नहीं चाहिए तत्काल कानून का सहायता लेनी चाहिए ।अगर आपकी सहायता नहीं मिलती है तो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में आवेदन देकर न्याय पा सकते हैं ।उन्होंने छात्राओं को जागरूक करते हुए कहा कि किसी प्रकार के विवाद का तत्काल कानून का सहारा लेना चाहिए। अगर वहां सुनवाई नहीं होता है तो विधिक सेवा प्राधिकरण में भी शिकायत दर्ज कराएं। इस मौके पर सीएचसी के चिकित्सा अधिकारी एस के राय, पैनल लॉयर नवीन कुमार , सर्वानंद उर्फ झुन्ना सिंह, एडवोकेट अखिलानंद सिंह, संतोष यादव, विनय सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

1 view0 comments
bottom of page