top of page
Search
  • alpayuexpress

गजब हो गया!..सपना सिंह का महज डेढ़ साल के कार्यकाल में ही विरोध शुरू,मनमानी की कार्यशैली में सुधार नह

खानपुर/गाजीपुर/उत्तर प्रदेश


गजब हो गया!..सपना सिंह का महज डेढ़ साल के कार्यकाल में ही विरोध शुरू,मनमानी की कार्यशैली में सुधार नहीं हुआ तो अविश्वास प्रस्ताव तक लाने का विचार


श्रवण कुमार शर्मा पत्रकार


खानपुर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर गाजीपुर की जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह का महज डेढ़ साल के कार्यकाल में ही विरोध शुरू हो गया है। करीब दो दर्जन जिपं सदस्यों ने बीती रात जिपं अध्यक्ष का विरोध करते हुए कहा कि वो बैठकें तक नहीं करती हैं और मनमाने ढंग से काम करती हैं। चेतावनी दिया कि अगर उनकी कार्यशैली में सुधार नहीं हुआ तो हम अविश्वास प्रस्ताव तक लाने का विचार कर सकते हैं। बीती रात सिधौना में दो दर्जन जिपं सदस्य कमलेश यादव के आवास पर पहुंचे और बैठक की। उन्होंने बताया कि मंगलवार को हमारी बैठक जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा बुलाई गई थी। लेकिन ऐन मौके पर उसे रद कर दिया गया। कमलेश यादव ने बताया कि जिपं अध्यक्ष द्वारा हम जिपं सदस्यों की अनदेखी की जा रही है। जिस पर उन्होंने आक्रोश जताया। बताया कि बीते डेढ़ साल के कार्यकाल में अब तक मात्र दो बैठकें हुई हैं। जबकि नियम ये है कि हर तीन माह पर सदन की एक बैठक अवश्य होनी चाहिए। आरोप लगाते हुए कहा कि अध्यक्ष द्वारा स्ट्रीट लाइट लगवाने में कराए गए भारी घोटाले की जांच कराने से भाग रही हैं। बताया कि पूरे जिले में करीब 12 करोड़ के 28 हजार लाइटों को मनमाने ढंग से लगाया गया है। जिनमें इस समय अधिकांश लाइटें खराब होकर बेकार पड़ी हैं। सदस्य खेदन यादव ने कहा कि अपने क्षेत्र के विकास कार्यों की उपेक्षा और अनदेखी किये जाने से पंचायत सदस्य आक्रोशित हैं। कहा कि पिछले अगस्त माह में बैठक की तिथि तय की गई थी। लेकिन ऐन मौके पर बैठक को रद कर दिया गया। इसके बाद आज 27 सितंबर को बैठक तय थी, लेकिन ऐन मौके पर एक बार फिर से अध्यक्ष ने उसे अपने निजी कारणों से अचानक रद कर दिया गया। ऐसे में सदन के अधिकांश सदस्य बार-बार महत्वपूर्ण बैठकों को रद किये जाने से नाराज हैं। कहा कि अभी अविश्वास प्रस्ताव की बात तो नहीं है, लेकिन अगर कार्यप्रणाली में सुधार नहीं हुआ तो हम ऐसा करने को बाध्य होंगे। बताया कि 27 सितंबर को 5 माह बाद बैठक होने वाली थी, जिसमें चर्चा के लिए रणनीति बनाने व एकजुटता दिखाने के लिए हम बाहरी बैठक कर रहे थे। तभी सूचना मिली कि बैठक रद हो गई है। कहा कि अध्यक्ष के इस रवैये ही अधिकारियों से शिकायत की जाएगी। इस मौके पर जिला पंचायत सदस्यों में रामखेलावन, विवेक यादव, भोला बिंद, देवेंद्र यादव, जोखन यादव, आकाश यादव, पांचू यादव, पंकज यादव, आनंद कुमार, मटरू पहलवान, गोविंद यादव, शैलेश कुमार, पारस यादव, प्रीतम पासवान, विजय बंगाली, पूजा यादव, अखिलेश गौतम, रंजीत कुमार, आलोक, महेश यादव आदि रहे।

2 views0 comments
bottom of page