Search
  • alpayuexpress

किसान पर ही लाठी चलवाकर अगर आप महान बनना चाहते हैं तो चुल्लू भर पानी में डूब मरिये...



किसान पर ही लाठी चलवाकर अगर आप महान बनना चाहते हैं तो चुल्लू भर पानी में डूब मरिये...


जुलाई शुक्रवार 17-7-2020


(रितिक रजक की रिपोर्ट)


इस तस्वीर को देखिए, हां गौर से देखिए, ये तस्वीर पाकिस्तान की नहीं है ये तस्वीर आपके और मेरे मुल्क यानी हिंदुस्तान की है, तस्वीर में पिता को पकड़ कर रोते बच्चों और परिवार पर की जा रही पुलिस द्वारा बर्बरता के पीछे इस परिवार का दोष बस इतना सा है की ये एक गरीब, किसान और दलित का परिवार है.. इसका वीडियो आपने देख ही लिया होगा, अगर नहीं देखा है और देख लेंगे तो आप भी चीखेंगे, चिल्लाएंगे, रोएंगे.. ,


ये उस राज्य की तस्वीर है जहाँ राजघराने परिवार के सिंधिया अपनी पार्टी से बगावत कर दूसरी पार्टी के पास एक मंगता की तरह गये और विधायक इधर से उधर कर मध्यप्रदेश की राजगद्दी पर शिवराज सिंह को बैठा दिया था..हाँ ये तस्वीर मध्यप्रदेश की है..

अब मसला देखिए क्या है.. ये पूरा मामला एमपी के गुना शहर के पीजी काॅलेज से लगी सरकारी जमीन का है ..इस जमीन पर राजकुमार अहिरवार नामक दलित शख्स लंबे अर्से से खेती कर रहा था, लेकिन मंगलवार को एसडीएम की अगुवाई में अतिक्रमण विरोधी दस्ता यहाँ पुलिस के साथ पंहुचा और इस किसान परिवार द्वारा बोई गई अंकुरित फसल पर JCB चला दी


इस दौरान राजकुमार और उसके परिवार ने अमले के सामने मिन्नतें कीं.. राजकुमार बताता रहा कि इस जमीन पर उसके बाप-दादा के जमाने से खेती हो रही है। उसका परिवार बरसों से जमीन पर काबिज़ है। उसने माना कि जमीन का पट्टा नहीं है और साथ ही कहा कि यहां पहले कभी कोई नहीं आया..

राजकुमार और उसका परिवार चाहता था कि फसल पकने और कटने तक उन्हें बख्श दिया जाये। लेकिन उनकी बात नहीं सुनी गई.. और फसल पर बुलडोज़र चलता रहा.. पुलिस ने इन्हें हटाने के बड़ी बेरहमी से लात, घूंसे और लाठियां बजाई.. इससे दुःखी होकर राजकुमार अपनी झोपड़ी में गया और परिजनों के रोकने के बावजूद वहां रखा कीटनाशक गटक गया.. इसके बाद इसकी पत्नी ने भी यही किया यानी ज़हर खा लिया... इसके बाद ये मासूम बच्चे उन्हें पकड़कर रोते रहे..

इतना कुछ हो जाने के बाद भी पुलिस अधिकारियों ने कहा ऐसा कुछ हुआ ही नहीं है.. राम राज्य बनाने वाली पार्टी अपने राज्यों को जंगल राज्य बनाता देख खामोश क्यों है.?? विकास दुबे को पकड़ने पर ऊनी पुलिस को बधाई देने वाले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान क्या केवल इसपर "जांच करवायंगे" या कुछ अधिकारियों को यहां से वहां हटाकर का झुंझुना बजा कर छोड़ देंगे.. ?

प्रशासन को चाहिए कि असली भूमाफियाओ पर ध्यान दे जिनके पास करोड़ों-अरबों की संपत्ति है जो ज़मीनों पर कब्ज़ा करके बैठे है और ऊपर से लेकर नीचे तक सबको हिस्सा खिला रहे हैं.. गरीब-किसान पर ही लाठी चलवा कर अगर आप महान बनना चाहते हैं तो चुल्लू भर पानी में डूब मरिये..

2 views0 comments