top of page
Search
  • alpayuexpress

किसान को अपनी फसल खुद ही परिजनों के साथ काटनी पड़ रही हैं


(चंदौली से अशोक केसरी की रिपोर्ट)


किसान को अपनी फसल खुद ही परिजनों के साथ काटनी पड़ रही हैं





चन्दौली। तहसील नौगढ़ में लॉकडाउन के चलते गेहूं की फसल की कटाई पर संकट पैदा हो गया है। कारण, दूसरे प्रांत या जिलों से न तो हार्वेस्टर आ रहा है और ना ही मजदूर कटाई के लिए तैयार हो रहे हैं। दरअसल, पंजाब प्रांत से आने वाली गेहूं कटाई की मशीन इस बार लॉकडाउन में फंस गई है। स्थानीय मजदूर जागरूक करने के बाद भी पुलिस की कार्रवाई के भय से खेतों में जाने को तैयार नहीं हैं। हालात को देखते हुए किसान स्वयं कटाई की व्यवस्था में जुट गए हैं।

नौगढ़ के विभिन्य गावो में 80 फीसद गेहूं की फसल पककर तैयार है। कटाई का कार्य शुरू होना है। लॉकडाउन ने किसानों के सामने गंभीर चुनौती खड़ी कर दी है। आखिर इस बार फसल की कटाई कैसी होगी। इसे लेकर किसान चितित हैं। जनपद में पंजाब से आने वाली मशीनों से गेहूं की कटाई होती है। लॉकडाउन के साथ ही राज्यों की सीमा सील कर दी गई हैं। जिले में कुछ मशीनें हैं भी तो पंजाब से चालक नहीं आ पाए हैं। ऐसे में किसान ने परिजनों के सहारे गेहूं कटाई का काम शुरू करने की तैयारी कर रहे हैं। किसान अरविद मिश्र, संतोष, विनोद सिंह ने कहा कि इस बार फसल की कटाई में समस्या आएगी। पंजाब से मशीनें नहीं आई हैं। स्थिति को देखकर लगता है कि किसान को फसल खुद ही परिजनों के साथ काटनी पड़ेगी। जिले में कटाई के पर्याप्त उपकरण हैं। फिर भी यहां बाहर से जो बड़े उपकरण आते थे, वे इस बार नहीं आए हैं। उनके अभाव में फसल की कटाई में देरी होगी। जो फसल तैयार हो चुकी है, उसकी कटाई शुरू कर देना चाहिए।

2 views0 comments

Comments


bottom of page