top of page
Search
  • alpayuexpress

किसके इशारे पर हुई पुलिस की जुल्म और ज्यादती!...एसपी से मिला सपा प्रतिनिधिमंडल की दोषी पुलिसकर्मियों

किसके इशारे पर हुई पुलिस की जुल्म और ज्यादती!...एसपी से मिला सपा प्रतिनिधिमंडल की दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


ग़ाज़ीपुर:- खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर बुधवार को समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष गोपाल यादव की अध्यक्षता में पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह से मिला। प्रतिनिधिमंडल मिलकर भड़सर पुलिस चौकी इंचार्ज श्वेता पांडे एवं उनके साथ कल रात समाजवादी पार्टी के जंगीपुर विधानसभा के सचिव गोपाल यादव के घर में घुसकर जुल्म, ज्यादती और दुर्व्यवहार और बर्बरता पूर्ण तथा तोड़फोड़ की कारवाई में शामिल पुलिस कर्मियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने की मांग किया।

जिलाध्यक्ष गोपाल यादव ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि भाजपा नेताओं के इशारे पर यह पुलिस की जुल्म ज्यादती है। रात में नाहक बिना किसी आधार के गोपाल यादव के घर में घुस जाना,घर की महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करना, खिड़की दरवाजे तोड़ना पुलिस की इस कार्रवाई को किसी भी दृष्टिकोण से सही नहीं ठहराया जा सकता। उन्होंने कहा कि बिरनो थाना अंतर्गत शहाबुद्दीन पुर निवासी बसंत यादव उर्फ गोपाल यादव पार्टी का कार्यकर्ता और सम्मानित पदाधिकारी हैं। उस पर किसी भी संगीन धारा में न तो मुकदमा दर्ज है और न ही वह आपराधिक प्रवृत्ति का है, इसके बावजूद उस पर गुंडा एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया जाना और जिला बदर की कार्रवाई कर उसे हैरान , परेशान और मानसिक रूप से प्रताड़ित करना कदापि न्यायोचित नहीं है। उन्होंने गोपाल यादव पर से जांच कर गुंडा एक्ट के तहत दर्ज मुकदमा वापस लेने और जिला बदर की कार्रवाई को खत्म करने की भी मांग किया।उन्होंने कहा कि पुलिस की इस कार्रवाई से उसके पूरे परिवार में भय व्याप्त हो गया है।परिजन बुरी तरह से भयभीत हैं। पुलिस की इस बर्बरपूर्ण कार्रवाई से पूरे क्षेत्र में खौफ और दहशत का माहौल है। उन्होंने कहा कि पुलिस का काम न्याय दिलाना है न कि दहशत फैलाना।उन्होंने कहा कि भाजपा राज में समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बदले की भावना से कारवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि तमाम वांछित और आपराधिक पृष्ठभूमि के लोग खुलेआम घुम रहे हैं पुलिस उन्हें तो पकड़ नहीं पा रही है बल्कि झूठी शिकायत पर समाजवादी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को परेशान कर रही है।उन्होंने कहा कि यदि इस घटना में शामिल दोषी पुलिसजनों पर कार्रवाई नहीं होती तो पार्टी को आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेश कुशवाहा, प्रदेश कार्यसमिति के विशेष आमंत्रित सदस्य रामधारी यादव, जिला उपाध्यक्ष रविन्द्र प्रताप यादव, जिला सचिव एवं मीडिया प्रभारी अरुण कुमार श्रीवास्तव, जंगीपुर विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र यादव,निजामुद्दीन खां, दिनेश यादव, दिनेश यादव,सत्येन्द्र यादव उर्फ सत्या, अनिल यादव,हरवंश यादव आदि शामिल थे।

1 view0 comments
bottom of page